अमेरिका : जब ट्रक ड्राइवर से राहुल गांधी ने पूछा- यहां कितना कमा लेते हो? जवाब सुन हो जाओगे हैरान?

0
765

AIN NEWS 1: बता दें कांग्रेस नेता राहुल गांधी अभी अमेरिका दौरे पर हैं। अपने इस दौरे के दौरान उन्होंने ट्रक से भी यात्रा की। वाशिंगटन से न्यूयॉर्क की दूरी कुल 190 किलोमीटर है और राहुल गांधी ने इस दूरी को एक ट्रक से कवर किया। जान ले तेजिंदर गिल इस ट्रक के ड्राइवर थे और वह पूरे सफ़र के दौरान राहुल गांधी से काफ़ी ज्यादा बात करते रहे और अपने अनुभव के बारे में उन्हे बताते रहे। लेकिन जैसे ही उन्होंने अपनी कमाई बताई, राहुल गांधी बिल्कुल दंग रह गए।

जान ले अमेरिका में इतनी है ट्रक ड्राइवर्स की कुल कमाई

इस बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने तेजिंदर गिल से पूछा कि आप यहां कितना कम लेते हो? इसके जवाब में ट्रक ड्राइवर ने कहा, “महीने में 8-10 हजार डॉलर की कमाई आराम हो जाती है।” अगर हम इसको भारतीय रुपयों में देखे तो ये 6 लाख 50 हजार से लेकर 8 लाख 20 हजार रुपये तक होता है। यानी अमेरिका में ट्रक ड्राइवर्स की कमाई भी 8 लाख महीना से अधिक है।तेजिंदर गिल ने राहुल गांधी को बताया कि अमेरिका में ट्रक ड्राइवर्स को पुलिस के लोग परेशान बिल्कुल नहीं करते और चोरी का भी यहां कोई डर नहीं है। हालांकि अमेरिका भी ओवरस्पीडिंग का चालान जरूर कटता है। तेजिंदर गिल ने आगे कहा, “यहां पर ट्रक ड्राइविंग काफी ज्यादा सेफ है और अच्छा पैसा भी कम लेते हैं, लेकिन भारत में ऐसा बिल्कुल नहीं है। वहां परिवार चलाना बहुत ज्यादा मुश्किल हो जाता है।

क्या है दिल्ली सरकार की फूड ट्रक पॉलिसी, जिससे लोगों को मिलेगा रोजगार!

बीच में ही ”तेजिंदर गिल राहुल गांधी से पूछते हैं कि कुछ गाने बजा लें? सिद्धू मूसेवाला के? उन्होंने आगे कहा, “हम ट्रक वालों के कारण ही मैन्युफैक्चरर्स का सारा काम चलता है। इस इंडस्ट्री में पैसा तो बहुत है लेकीन जिन लोगों के पास भी इंवेस्ट करने का पैसा नहीं है, उनके लिए ये विकल्प काफ़ी अच्छा है।” तेजिंदर गिल ने मोदी सरकार की भी इस सफ़र में आलोचना की और कहा कि वहां महंगाई बढ़ गई है और वादे पूरे नहीं हुए।

जान ले भारत में इतनी है कमाई

राहुल गांधी ने भारत में भी ट्रक ड्राइवर के साथ मे यात्रा की थी। इस दौरान भी उन्होंने ड्राइवर से बातचीत की थी। ड्राइवर ने बताया था कि उन्हें यहां एक भी दिन छुट्टी नहीं मिलती और महीने में केवल 8-10 हजार की ही कमाई हो पाती है, जिससे उनका परिवार चलाना काफ़ी ज्यादा मुश्किल हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here