अरविंद केजरीवाल का बड़ा सवाल! क्या भाजपा भारत का नाम भी बदल देंगे?

0
344

अरविंद केजरीवाल का बड़ा सवाल! क्या भाजपा भारत का नाम भी बदल देंगे?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नें कहा  कि भाजपा विपक्ष के इंडिया गठबंधन से डर गई है और इसलिए देश का नाम इंडिया से भारत में बदलने का प्रयास कर रही है । केजरीवाल ने मंगलवार को प्रस्तावित नाम को इंडिया से भारत में बदलने पर भाजपा पर कटाक्ष किया । अरविंद केजरीवाल ने सवाल करते हुऐ कहा कि केंद्र सरकार संसद के विशेष सत्र में देश का नाम बदलने का प्रस्ताव लाने जा रही है। भाजपा विपक्ष के इंडिया गठबंधन से पूरी तरह से डर गई है। साथ ही  केजरीवाल नें सवाल भी किया कि अगर इंडिया गठबंधन का नाम बदलकर भारत रखा गया तो क्या ये भारत नाम भी बदल देंगे? इतना पुराना हमारा देश है, उसका नाम इसलिए बदला जा रहा है, क्योंकि इंडिया गठबंधन बन गया है और भाजपा को लगता है कि उनके वोट कम हो जाएंगे वो अबकि बार केंद्र में नही आ पाये गए तभी भारत का नाम बदलने के बारे में भाजपा सोच रही है । केजरीवाल ने मंगलवार को ये भाजपा पर निशाना साधते हुऐ सवाल किया। उन्होने कहा कि देश तो 140 करोड़ लोगों का है, किसी एक पार्टी का देश नहीं है। साथ ही भाजपा को निशाना साधते हऐ कहा कि भाजपा को लग रहा है कि इंडिया गठबंधन बनने के बाद उसके वोट कम हो जाएंगे, इसलिए भारत का नाम बदल दो। केजरीवाल ने कहा कि जिस दिन इंडिया गठबंधन की बैठक हुई, उस दिन भाजपा ने देश का ध्यान भटकाने के लिए ‘वन नेशन-वन इलेक्शन का शिगूफा छोड़ दिया। उन्होंने पूछा कि वन नेशन वन इलेक्शन से जनता को क्या फायदा है?  तो भाजपा का कहना था कि वन नेशन वन इलेक्शन से महंगाई और बेरोजगारी कम हो जाएगी। केजरीवाल ने कहा लेकिन ऐसा नही हुआ मंहगाई कम होने वजाये दिन पर दिन बढ़ती जा रही है।

सीएम केजरीवाल ने क्या सवाल किया

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नें कहा  , मैं पूछ रहा हूं कि अगर हम अपने गठबंधन का नाम इंडिया से बदलकर भारत कर दें, तो वे क्या करेंगे? वे देश का नाम बदलकर भाजपा कर देंगे?” केजरीवाल ने तर्क दिया कि भारत एक हजार साल पुराना देश है, और भाजपा का प्रस्तावित नाम परिवर्तन पूरी तरह से विपक्ष के नेतृत्व वाले इंडिया गठबंधन के बारे में उनकी चिंताओं और कुछ अतिरिक्त वोट हासिल करने की उम्मीद के कारण है। इसके अलावा सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ये हमारे  देश के साथ गद्दारी है। उन्होंने इंडिया गठबंधन के कारण ही वन नेशन, वन इलेक्शन का प्रस्ताव भी पेश किया है। मैं आपको बताता हूं, वे हर छह महीने में जनता का सामना नहीं करना चाहते हैं इसलिए वे वन नेशन, वन इलेक्शन की वकालत कर रहे हैं। यदि अवधारणा स्वीकार कर ली जाती है, तो मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि वे 5000 रुपये में सिलेंडर और 1500 रुपये किलो टमाटर मिलेगा। अभी जो भी थोड़ी बहुत गरीब कम है वो वन नेशन, वन इलेक्शन के होने पर हो जाएगा।

 छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी किया सवाल

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी सवाल किया है  वही सवाल किया जो केजरीवाल ने पूछा है। बघेल ने कहा हमें राष्ट्रपति से निमंत्रण पत्र मिला है। अब तक हमें प्रेसिडेंट ऑफ इंडिया  से निमंत्रण पत्र मिलता था लेकिन इस बार प्रेसिडेंट ऑफ भारत से निमंत्रण पत्र आया है। भारत के साथ इतनी दिक्कत? अब विपक्षी गठबंधन का नाम इंडिया है इसलिए भाजपा इसे नजरअंदाज कर रही है। कल अगर गठबंधन का नाम बदलकर भारत हो गया को क्या भाजपा उसे भी बदल देगी या फिर हम ये समक्ष ले कि भाजपा इड़िया गठबंधन से डर गई है उनको हारने का ऐहसास हो गया है तभी ये सब कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here