इस देश में अपने से आधी उम्र के युवकों को तलाश करती हैं यूरोप की महिलाएं! सेक्स टूरिज्म ने इस देश को कर दिया है मालामाल!

देह व्यापार को लीगल करने वाले देशों में टूरिज्म ने हमेशा छलांग लगाई है। थाइलैंड इसकी सबसे नजदीकी और सबसे बड़ी मिसाल है। इसके अलावा भी दुनियाभर...

0
584

AIN NEWS 1: देह व्यापार को लीगल करने वाले देशों में टूरिज्म ने हमेशा छलांग लगाई है। थाइलैंड इसकी सबसे नजदीकी और सबसे बड़ी मिसाल है। इसके अलावा भी दुनियाभर में देह व्यापार को लीगल दर्जा देने वाले देशों की लंबी लिस्ट है। इन देशों में एशिया और यूरोप से लेकर अफ्रीकी देश तक शामिल हैं। देह व्यापार के लीगल होने से सबसे बड़ा फायदा टूरिज्म में उछाल के तौर पर देखने को मिलता है।

इस देश में यूरोप की महिलाओएं करती हैं सेक्स टूर

ऐसा ही एक छोटा सा अफ्रीकी देश है गांबिया जहां पर सेक्स टूरिज्म का धंधा तेजी से बढ़ रहा है। यहां सेक्स के लिए अफ्रीका के लड़कों को महिलाएं हायर करती हैं। इन लड़कों के लिए गांबिया में यूरोप की 60 साल से ज्यादा उम्र की महिलाएं आती हैं और अपने से आधी उम्र के लड़कों को हायर करती हैं। अफ्रीका के पश्चिमी तट पर बसे गांबिया के बीच पर इस तरह का व्यापार जारी है। गांबिया की अथॉरिटीज इसे रोकना चाहती हैं और लोकल लोग भी इसे पूरी तरह बैन करने की डिमांड कर रहे हैं। उनका कहना है कि युवा लड़कों को इस धंधे में फंसाने से यहां परिवार बिखर रहे हैं।

 

थाइलैंड में बुजुर्ग तलाशते हैं जवान लड़कियां!

लोगों के विरोध के बावजूद बुजुर्ग महिलाओं और युवाओं के मिलन का ये चलन बदस्तूर जारी है। कोलोली टूरिस्ट एरिया में पुलिस गश्त के बावजूद कपल्स को कोई फर्क नहीं पड़ता और वो अपने में मग्न रहते हैं। लोगों की आलोचनाओं पर ये जोड़े उन्हें नसीहत देते हैं कि वो अपने काम से काम रखें। यहां पर आई 62 साल की लीजा का कहना है कि हमारे से लोगों को क्यों किसी तरह की दिक्कत हो रही है ये समझ से बाहर है। मैं कुछ भी ऐसा नहीं कर रही हूं जो इललीगल है। थाइलैंड में काफी जवान लड़कियां बूढ़े लोगों के साथ घूमती नजर आएंगी लेकिन वहां कोई कुछ नहीं कहता है। पर अगर महिला बुजुर्ग है और लड़का जवान तो ये कोई हजम नहीं कर पाता और लोग विरोध शुरु कर देते हैं।

बुजुर्ग महिलाओं से सेक्स करके लड़के कमाते हैं पैसे

कोलोली में औसत मासिक वेतन करीब 19 हज़ार रुपए है। होटल में काम करने वाले कर्मचारियों को तो 5 हजार से भी कम तनख्वाह मिलती है। जबकि पुरुष सेक्स वर्कर सप्ताह में 50-55 हजार रुपए तक कमा सकता है। हालांकि महिलाएं सेक्स के लिए कभी कभार ही भुगतान करती हैं। सेक्स के लिए पैसे देने की बजाय वो अपने पार्टनर के खर्चे वहन करती हैं। लेकिन कुछ लोग इस दौरान प्यार में भी पड़ जाते हैं। गांबिया के 25 साल के मोम्बा का कहना है कि उम्र तो हमारे लिए महज एक नंबर है। अगर मैं एक गोरी महिला के साथ हूं तो लोग मेरे पर गर्व करेंगे और मेरी इज्जत करेंगे। इससे कोई असर नहीं पड़ता कि वो दिखती कैसी है और कितनी बुजुर्ग है। यहां लोगों के पास पैसा नहीं है। अगर एक गोरी महिला मुझे पसंद करती हैं तो मैं परिवार की सहायता के लिए पैसे भी मांग सकता हू्ं।

रोज 150 छक्के मारने का दावा करने वाले इस पाकिस्तानी बैट्सैन को अर्शदीप ने किया चलता। 2 रन बनाकर हुए अर्शदीप सिंह का शिकार।

सेक्स टूरिज्म से बिखर रहे हैं परिवार

कई गोरी महिलाएओं ने गांबिया के लड़कों से शादी भी कर ली है। एक होटल चलाने वाले 48 साल के जैम्बा कहते हैं कि हम इस तरह के टूरिज्म पर रोक लगाने के लिए सख्ती की मांग कर रहे हैं। ये गलत हो रहा है क्योंकि अगर आप केवल छुट्टी मनाने आए हैं तो अच्छा है लेकिन इसे सेक्स टूरिज्म ने नजरिए से देखना गलत है। अगर किसी लड़के को उसके परिवार से अलग किया जाएगा तो वो परिवार बिखर जाएगा। हमने कई महिलाओं को सप्ताह भर में एक लड़के पर 50 हजार रुपए से ज्यादा भी खर्च करते देखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here