उत्तर प्रदेश: जयंत चौधरी ने जमकर की पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ़, आख़िर क्यों?

0
455

AIN NEWS 1: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने गुरुवार को ही खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी खेलों के तीसरे सत्र का भी वीडियो कांफ्रेंस के जरिये ही उद्घाटन किया. वीडियो कांफ्रेंस के जरिये उन्होने इन खेलों का आगाज करते हुए कहा, ‘खेलों के प्रति पिछली सरकारों का जो रवैया रहा है उसका एक जीता जागता सबूत राष्ट्रमंडल खेलों के दौरान हुआ बड़ा घोटाला था . जो खेल प्रतियोगिता विश्‍व में भारत की धाक जमाने के काम आ सकती थी, उसी में उन्होने घोटाला कर दिया .’ दीगर है कि इस साल खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी खेल 25 मई से तीन जून तक उत्तर प्रदेश में ही आयोजित किये जायेंगे.वहीं पीएम द्वारा उद्घाटन के बाद राष्ट्रीय लोकदल के नेता और राज्यसभा सांसद जयंत सिंह ने भी इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी. माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर रालोद नेता ने पीएम मोदी की बहुत जमकर तारीफ की. उन्होंने एक ट्वीट में लिखा- ‘अच्छा लगा की प्रधान मंत्री जी उत्तर प्रदेश #KheloIndia कार्यक्रम में खेल पर विस्तार से बोले! भारत में खेल प्रतिभा के विकास की अनंत संभावनाओं को तब्दील करना है तो खिलाड़ियों का सम्मान रखें!

 

https://twitter.com/jayantrld/status/1661802303421313029?t=um2bOT9GGe4cOuS2PMUjOA&s=19

 

‘बच्चों को खेलने का मौका मिले ,इसके लिए’

मोदी ने कहा,’ हमारे गांव देहात के बच्चों को खेलने का मौका मिलेगा ,इसके लिए पहले से ही एक योजना चला करती थी पंचायत युवा क्रीडा खेल अभियान लेकिन बाद में इसका नाम बदलकर राजीव गांधी खेल अभियान कर दिया गया था . इस अभियान में भी फोकस सिर्फ नाम बदलने को लेकर था, देश के खेल के आधारभूत ढांचे को बदलने को लेकर बिलकुल नहीं दिखाया गया .’’

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में आगे कहा खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी खेल में भाग ले रहे खिलाड़ियों को उन्होने शुभकामनाएं दी. उन्होंने कहा कि उप्र का सांसद होने के नाते उप्र में आने वाले सभी खिलाड़ियों का में स्वागत करता हूं.

उन्होंने कहा ,‘‘इन खेलों के आयोजन से यूनिवर्सिटी में खेल के माहौल में काफ़ी बदलाव होगा और ये खेल उत्सव देश को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगा. आज उप्र में देश की खेल प्रतिभाओ का भी संगम बना है. पहले हमने खेलो इंडिया खेल की शुरुआत की. अब खेलो इंडिया शीतकालीन खेल की भी यहां शुरुआत हो गई है.’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here