…तो यूक्रेन पर कब्जा कर लेगा रूस? कीव पर अबतक के सबसे बड़े हमले में 75 मिसाइलें दागी गईं!

0
331

1.यूक्रेन पर रूस का अबतक का सबसे बड़ा हमला

2.रूस ने सोमवार को कीव पर दागी 75 मिसाइल

3.कई महीनों बाद कीव पर रूस का हमला

AIN NEWS 1: रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव समेत देश के कई इलाकों पर अब तक का सबसे भीषण मिसाइल अटैक किया है। यूक्रेन का दावा है कि रूस ने 75 मिसाइलें दागी हैं। कीव के कई इलाकों में जोरदार धमाके की आवाजें सुनी गई हैं। रूसी अटैक से कई जगहों पर भारी नुकसान हुआ है। रूस ने महीनों के बाद कीव पर हमला बोला है। रूस की सेना ने कीव के साथ ही पोलैंड सीमा पर स्थित लवीव, झयटोमयर, खमेलनयट्स्‍की समेत कई शहरों को निशाना बनाया है। अंदाजा है कि क्रीमिया के पुल को विस्‍फोट से उड़ाए जाने के बाद रूस ने ये जवाबी हमला शुरू किया है। कीव के मेयर ने इन धमाकों की पुष्टि की है। इससे पहले रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने क्रीमिया पुल पर हुए हमले को आतंकी घटना बताया था।

8 लोगों की मौत, 24 के घायल होने की खबर

रूस के सोमवार को किए गए हमलों में कम से कम 8 लोगों के मरने और 24 के घायल होने की खबर है। कीव के मेयर ने कहा कि कीव शहर के बीच में कई धमाके सुने गए हैं। इन धमाकों के बाद एक घंटे तक कीव में हवाई हमले के सायरन बजते रहे। रूस-यूक्रेन युद्ध में पुतिन की फौज के कीव पर हमले रोककर पूर्वी इलाकों को काटने की मुहिम शुरू करने के बाद से अभी तक यूक्रेनी सैनिक हजारों किलोमीटर एरिया रूस से छुड़ा चुके हैं। इससे रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन बहुत दबाव में आ गए हैं और उन्‍होंने नए सेनाध्यक्ष को नियुक्त कर दिया है।

उत्तर प्रदेश 112 की सवेरा योजना में 15 अक्तूबर तक पंजीकरण कर सकते हैं वरिष्ठ नागरिक

‘क्रीमिया पुल पर विस्फोट आतंकवादी घटना’

रूस के नए जनरल के कार्यभार संभालने के बाद कीव को फिर से निशाना बनाया गया है। इससे पहले पुतिन ने कहा था कि क्रीमिया पुल पर विस्फोट निस्संदेह रूस के महत्वपूर्ण नागरिक बुनियादी ढांचे को नष्ट करने के मकसद से किया गया एक आतंकवादी हमला था। रूसी जांच समिति के अध्यक्ष अलेक्जेंडर बैस्ट्रीकिन के साथ बैठक के दौरान पुतिन ने कहा, ‘यूक्रेन की विशेष सेवाएं आरंभकर्ता, कलाकार और मास्टरमाइंड थीं।’ पुतिन के बयान की पुष्टि करते हुए बैस्ट्रीकिन ने कहा कि, इस घटना में रूस और विदेशों के नागरिक भी शामिल थे। बैस्ट्रीकिन ने कहा, ‘हमने उस ट्रक का मार्ग पहले ही स्थापित कर लिया है जिसमें धमाका हुआ था। यह बुल्गारिया, जॉर्जिया, आर्मेनिया, उत्तरी ओसेशिया और क्रास्नोडार क्षेत्र के माध्यम से चला गया। हमने वाहकों की भी पहचान की है, एफएसबी (संघीय सुरक्षा सेवा) एजेंटों की मदद से, हम उन लोगों में से संदिग्धों की पहचान करने में सक्षम थे जो आतंकवादी कृत्य की व्यवस्था कर सकते थे और जो रूसी संघ के भीतर सक्रिय हैं।’ शनिवार को, 19 किलोमीटर लंबे क्रीमियन ब्रिज में एक घातक विस्फोट हुआ, जिसमें केर्च जलडमरूमध्य के ऊपर ऑटोमोबाइल और ट्रेनों के लिए दो समानांतर मार्ग शामिल हैं।

क्रीमियन ब्रिज पर हमला यूक्रेन की सुरक्षा सेवा ने अंजाम दिया

सड़क पुल पर एक ट्रक में विस्फोट हुआ, जिससे क्रीमिया प्रायद्वीप की ओर जा रही एक ट्रेन के 7 ईंधन टैंकों में आग लग गई। विस्फोट में 3 लोगों की मौत हो गई, जिससे सड़क पुल के दो हिस्से भी आंशिक रूप से गिर गए। क्रीमियन ब्रिज पर घटना यूक्रेन की सुरक्षा सेवा (एसएसयू) द्वारा किया गया एक विशेष अभियान था। इंटरफैक्स-यूक्रेन समाचार एजेंसी ने यूक्रेन की कानून प्रवर्तन एजेंसियों में अपने स्रोत का हवाला देते हुए कहा कि एसएसयू ने अभी तक इस घटना पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here