देखे VIDEO: सपा विधायक ने दिल्ली में दिखाया ‘भौकाल’गाड़ी का सनरूफ खोलकर हूटर बजाते हुए निकला काफ़िला , दिल्ली पुलिस ने थमा दिया नोटिस!

इस वीडियो के वायरल होने के बाद से दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने मेरठ के सरधना से विधायक अतुल प्रधान को अब एक नोटिस जारी कर दिया है. विधायक को नोटिस जारी करके जवाब मांगा है.

0
223

AIN NEWS 1: उत्तर प्रदेश के मेरठ से ही समाजवादी पार्टी के विधायक अतुल प्रधान (Atul Pradhan Video) का एक ऐसा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. जिसमे साफ़ देखा जा सकता है कि कैसे दिल्ली की सड़कों पर वह सैकड़ो गाड़ियों के साथ मे उनका पूरा काफिला चल रहा है. विधायक अतुल प्रधान खुद अपनी गाड़ी के सनरूफ में खड़े होकर इस पूरे काफिले का नेतृत्व भी कर रहे हैं.

हालांकि, इस वीडियो के वायरल होने के बाद से ही दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने विधायक अतुल प्रधान को एक नोटिस जारी कर दिया है. पुलिस ने समाजवादी पार्टी के विधायक को यह नोटिस जारी करके उनसे इसका जवाब मांगा है. यहां आपकों बता दें कि अतुल प्रधान पर ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन के गम्भीर आरोप लग रहे हैं. सूत्रों की माने तो, इस काफिले की कुछ गाड़ियों का चालान भी पुलिस द्वारा किया गया है. यहां जान ले, अतुल प्रधान का यह वीडियो देश की राजधानी दिल्ली के ही प्रगति मैदान टनल का है, जहां पर रविवार को गुर्जर समाज के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए वो बिलकुल फिल्मी स्टाइल में इस काफिले के साथ पहुंचे थे. इस पूरे वीडियो में अतुल प्रधान सैकड़ो गाड़ियों के काफिले के साथ मे नजर आ रहे हैं. इस दौरान गाड़ियों में हूटर भी बज रहे थे. वहीं, अतुल प्रधान अपनी गाड़ी का सनरूफ खोलकर इसका वीडियो भी बनवा रहे थे. इस वीडियो के संज्ञान में आने के बाद से ही दिल्ली पुलिस ने अतुल प्रधान को एक नोटिस भेजकर इस पूरे प्रकरण पर जवाब मांगा है. इस मामले में सरधना विधायक अतुल प्रधान का कहना है कि अपनी गाड़ी से ऊपर निकलकर चलना कोई गुनाह तो नहीं है. इस तरह से आदरणीय प्रधानमंत्री जी की भी फोटो रोज आती रहती है. कोई भी बड़ा राजनीतिक व्यक्ति हो, जो अपने लोगों से मिलने जा रहा हो वह गाड़ी में खड़े होकर ही अपने लोगों का अभिवादन करता है.

अतुल प्रधान ने इस मामले में कहा कि हम लोग तो ग्वालियर वाले प्रकरण पर जहां हमारे लोगों पर अत्याचार हुआ उसके लिए दिल्ली गए हुए थे. वहां पर हजारों की संख्या में लोग पहुंचे हुए थे, जिसका यह वीडियो वायरल हो रहा है. ये कोई बहुत ज्यादा बड़ी बात नहीं है. कई बार कई वीडियो ज्यादा चल जाती है. मेरी वाली भी चल गई. अगर दिल्ली पुलिस ने मुझे नोटिस दिया तो दूसरों को भी तो नोटिस मिलना चाहिए.

अतुल प्रधान- हम लोग तो एक प्रोटेस्ट के लिए ही जा रहे थे. हमारे पास इसकी परमिशन भी थी. अगर कोई और बात है तो हम भी उसका जवाब देंगे. वैसे भी रविवार का दिन था और पूरा रास्ता खाली था. मैं इस काफिले की कोई अगुवाई नहीं कर रहा था. सैकड़ो की संख्या में वहा गाड़ियां थीं. कोई गैरकानूनी गाड़ी नहीं थीं. सब ही लीगल गाड़ियां थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here