बुधवार से हालात और बिगड़ने के आसार, ग्रेटर नोएडा में 260 दर्ज किया गया एक्यूआई

0
213

लगातार रोजाना एक्यूआई कम होने के बजाय दिन पर दिन बढता ही जा रहा है और इससे लोगो को सांस लेनें मे काफी ज्यादा दिक्कत का सामना करना पढ़ रहा है. वही आपको बता दे कि राजधानी दिल्ली में मौसम के बदलने और पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने से प्रदूषण का स्तर लगातार चौथे दिन भी खराब रहा है और ये भी अनुमान लगाया जा रहा कि बुधवार से हालात और ज्यादा बिगड़ सकता हैष। वही आपको बता दे कि रविवार को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक 414 दर्ज किया गया है, जोकि काफी ज्यादा खतरनाक श्रेणी में है. वही आपको बता दे केंदीय प्रदूषण नियत्रंण बोर्ड के मुताबिक मुंडका में सूचकांक 395 रहा. जोकि बेहद खराब श्रेणी में है. और यह शनिवार के मुकाबले पांच सूचकांक अधिक है। आपको बता दे कि एनएसआईटी द्वारका में 317, वजीरपुर 310 व आंनद विहार में 335 एक्यूआई दर्ज किया गया। वही दिल्ली में ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान का पहला चरण की बंदिशें लागू है।और वही दिन पर दिन वायु प्रदूषण का सकंट धीरे धीरे गहराता जा रहा है

चार दिन से लगातार हवा खराब श्रेणी में दर्ज की जा रही है वहीं रविवार को दिल्ली का समग्र रूप से वायु गुणवत्ता सूचक यानी कि एक्यूआई 233 दर्ज किया गया था सुबह से ही धीरे-धीरे हवा और खराब हो रही थी सुबह 11:00 बजे का एक्यूआई 228 दर्ज किया गया वहीं दोपहर 3:00 बजे सूचकाकं  231 मापा गया आपको बता दे शनिवार के मुकाबले इसमें कमी जरूर आई है लेकिन लोगों को प्रदूषित हवा से राहत नहीं मिली है भारतीय उष्णदेशीय मौसम विज्ञान संस्थान के अनुसार रविवार को हवा उत्तर पश्चिम से पूर्व की दिशा से चली इस दौरान हवा की गति आठ से 12 किलोमीटर प्रतिघंटा से चली अगर  एनसीआर के शहरों की बात करें तो फरीदाबाद का 270, गाजियाबाद का 174, ग्रेटर नोएडा का 260, गुरुग्राम का 168 जबकि नोएडा का 200 दर्ज किया गया। ग्रेटर नोएडा और फरीदाबाद का एक्यूआइ ‘खराब’ जबकि अन्य सभी जगह ‘मध्यम’ श्रेणी में रहा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here