महाकाल की नगरी उज्जैन में मात्र 12 साल की बच्ची से हुई दरिंदगी, क़रीब ढाई घंटे तक भटकती रही मासूम, दरवाजे दरवाज़े दी दस्तक, नहीं मिली कोई मदद!

0
1119

AIN NEWS 1: उज्जैन में एक बेहद दुर्भाग्यपूर्ण घटना सामने आई है जहां पर मात्र 12 साल की एक बच्ची के साथ रेप करने का मामला सामने आया है। यह पूरी जानकारी महाकाल थाना इलाके में बड़नगर रोड पर दांडी आश्रम के पास से बच्ची सोमवार शाम को घायल हालत में मिलने के बाद आई । उसके सभी कपड़े भी खून से सने थे।

यह बच्ची अपने आधे-अधूरे कपड़ों में ही सांवराखेड़ी सिंहस्थ बाइपास की कॉलोनियों में क़रीब ढाई घंटे तक भटकती रही। इसके CCTV फुटेज भी पुलिस द्वारा खोजे गए हैं। वह इसी हालत में पूरे आठ किलोमीटर तक पैदल चलती गई। उसके प्राइवेट पार्ट्स में काफ़ी गंभीर चोटें हैं। उसने पुलिस को भी बताया- की उसकी मां के साथ भी काफ़ी गलत काम हुआ है, लेकिन अभी उसकी मां कहां है और वह उज्जैन तक वह बच्ची कैसे आई? इस बारे में वह कुछ भी नहीं बता पा रही है।

अभी तो ज्यादा खून बह जाने के कारण ही इस बच्ची को इंदौर के अस्पताल में ही भर्ती कराना पड़ा। वहां उसे खून भी चढ़ाया गया, यह बच्ची अब खतरे से तो बाहर है। इस मामले में डॉक्टरों ने रेप की पुष्टि भी की।

इस पूरे मामले में उज्जैन SP सचिन शर्मा ने बताया कि यह बच्ची शायद प्रयागराज (UP) की ही रहने वाली है। इसकी पूरी जांच के लिए एक SIT गठित की है। यह बच्ची अभी ठीक से ज्यादा कुछ बता नहीं पा रही है कि इसके साथ यह घटना कहां हुई।

यह बच्ची CCTV फुटेज में कई सारी जगह दिखाई दी, ऑटो ड्राइवर हिरासत में

पुलिस ने जब इस इलाके में CCTV फुटेज खंगाले तो उसमें एक ऑटो रिक्शा हाटकेश्वर मार्ग पर भी दिखाई दिया है, जिसमें एक व्यक्ति भी इस पीड़ित के साथ मे दिख रहा है। फुटेज की मदद से ही पुलिस ने मंगलवार रात को इस ऑटोवाले को खोज निकाला। और इसे हिरासत में लेकर उससे इस मामले में पूछताछ की जा रही है।वहा की पुलिस को इस ड्राइवर के ऑटो से कुछ खून के धब्बे भी मिले हैं। इसने पुलिस अब बच्ची के ब्लड सैंपल लेकर उसका मिलान करेगी। इस ऑटो ड्राइवर के मोबाइल में कई सारे पोर्न वीडियो भी मिले हैं।

यह बच्ची तिरुपति ड्रीम्स में एक वृद्ध से बोली- मेरे पीछे कोई लगा हुआ है

इन CCTV फुटेज में यह बच्ची सोमवार सुबह 5 बजकर 52 मिनट पर तिरुपति ड्रीम्स कॉलोनी में ही काफ़ी ज्यादा हड़बड़ाती हुई पैदल जाती दिखी है। इस दौरान सुबह कॉलोनी के एक वृद्ध ने उससे पूछा भी कि आपके साथ क्या हुआ है तो वह बस इतना ही बोली कि कुछ लोग मेरे पीछे लगे हुए हैं। इसके बाद वह वहां रुकी नहीं, वह काफ़ी तेजी से चलती गई।

पुलिस इस संबंधित व्यक्ति तक भी पहुंची और बच्ची से हुई उसकी बातचीत के बारे में पता किया। इससे ये बात सामने आया कि वह दरिंदगी का शिकार होने के बाद अपनी जान बचाकर निकली और उसे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि वह आख़िर कहां जाए और किससे अपने लिए मदद मांगे। बस वह पैदल ही इस कॉलोनी से उस कॉलोनी चली जा रही थी।

पुलिस ने महिला एक्सपर्ट की मदद से ही इस बच्ची की बोली समझी

इस पूरे घटनाक्रम में SP शर्मा ने उत्तर प्रदेश निवासी महिला एक्सपर्ट की मदद से इस बच्ची की बोली समझी। इससे ही ये पता चल पाया कि वह उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के एक गांव की रहने वाली हो सकती है। उसकी बोली भी इस इलाके के एक समुदाय की ही बोली है। मध्य प्रदेश पुलिस, उत्तर प्रदेश पुलिस से भी अब संपर्क कर इसके परिवार का पता करने का प्रयास कर रही है।

इस दौरान पुलिस टीम भी पूरे 72 घंटे के CCTV फुटेज खंगाल रही है। इस दौरान बाइपास मार्ग से निकले वाले भारी वाहनों की भी डिटेल निकलवाई जा रही है। इसमें ज्यादातर हाटकेश्वर मार्ग के फुटेज से ही पुलिस के कुछ सुराग हाथ लगे हैं। लोगों के वहा मूवमेंट पर भी पूरी तरह से काम हो रहा है। पुलिस अधिकारियों का साफ़ कहना है कि तकनीकी टीमें भी इसमें पूरी तरह से लगी हुई हैं। इस पूरे घटनाक्रम में हर स्तर पर काम हो रहा है।

बच्ची ने कहा एक व्यक्ति का नाम चावल 

उज्जैन SP सचिन शर्मा ने यह भी बताया कि शायद बाइपास एरिया में ही इस बच्ची के साथ हैवानियत की गई है। वह अभी किसी व्यक्ति का चावल नाम भी बोल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here