योगी आदित्यनाथ को भेजिए, 24 घंटे में ऐक्शन; फ्रांस में दंगों के बीच उठी मांग !

0
599

Table of Contents

योगी आदित्यनाथ को भेजिए, 24 घंटे में ऐक्शन; फ्रांस में दंगों के बीच उठी मांग !
पिछले पांच दिन से फ्रांस में लगातार हिंसा का दौर जारी है। तमाम कोशिशों के बावजूद हालात सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस बीच फ्रांस की स्थिति नियंत्रण में लाने के लिए वहां पर ‘योगी मॉडल’ की मांग उठने लगी है।
यह मांग उठाई है प्रोफेसर एन जॉन कैम नाम के एक डॉक्टर ने। यह डॉक्टर एंजियोग्राफी और एंजियोप्लास्टी में एक्सपर्ट बताए जाते हैं। प्रोफेसर एन जॉन ने ट्विटर पर लिखा कि भारत को फ्रांस में शांतिपूर्ण स्थिति कायम करने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को वहां भेज देना चाहिए। उनके इस ट्वीट पर योगी आदित्यनाथ के ऑफिस की तरफ से जवाब भी दिया गया है।
इस प्रोफेसर ने किया ट्वीट
प्रोफेसर एन जॉन कैम ने एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने लिखा कि फ्रांस में दंगे नियंत्रित करने के लिए और हालात पर काबू पाने के लिए योगी आदित्यनाथ को भेजिए। इसके आगे उन्होंने लिखा कि माई गॉड, महज 24 घंटे में वह ऐक्शन लेकर सबकुछ सामान्य कर देंगे। प्रोफेसर ने अपने इस ट्वीट में योगी आदित्यनाथ को टैग भी किया है। इसके जवाब में योगी आदित्यनाथ की ऑफिस की तरफ से जवाब भी दिया गया है। जवाबी ट्वीट में लिखा है कि जब भी दुनिया के किसी हिस्से में दंगा भड़कता है, कानून-व्यवस्था बदहाल होती तो दुनिया योगी मॉडल की मांग करती है। इसी मॉडल के दम पर महाराज जी ने उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था बहाल की है।
क्या है योगी मॉडल
बता दें कि बीते कुछ दिनों में उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था कायम रखने के लिए काफी कड़ाई हो रही है। दंगा या अन्य किसी तरह का अपराध करने वालों के घरों पर बुलडोजर चला दिया जाता है। इसको ही योगी मॉडल कहा जा रहा है। भारत में भी विभिन्न प्रदेशों में इस मॉडल को अपनाने की बातें हुई हैं। वहीं, मध्य प्रदेश समेत कुछ राज्यों में तो इस पर अमल भी हुआ है। यहां किसी तरह का क्राइम करने वाले अपराधियों के घरों पर बुलडोजर चला दिया गया है। अतीक अहमद जैसे माफिया द्वारा कब्जा की गई जमीन पर बुलडोजर चलाने के बाद वहां बने अपार्टमेंट में लोगों को बसाया गया है।
क्या हुआ है फ्रांस में
गौरतलब है कि फ्रांस में 17 साल के डिलिवरी ब्वॉय के पुलिस द्वारा हत्या का आरोप है। इस घटना के बाद पूरे देश में लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। हालात से निपटने के लिए बड़े पैमाने पर सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। इसके बावजूद स्थिति नियंत्रण से बाहर है। कुछ लोग फ्रांस में आपातकाल लगाने की मांग भी कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here