100 करोड़ का जमीन घोटाला कर प्रॉपर्टी डीलर से बना गया संत, एसआईटी जांच में खुले गए कई राज!

आज हम आपको बताते हैं के जमीन बेचने के नाम पर हुए क़रीब 100 करोड़ रूपए के घोटालो में अब जैसे- जैसे पुलिस की तफ्तीश आगे बढ़ती जा रही है वैसे वैसे इसमें कई सारे नए चेहरों की भी महत्वपूर्ण भूमिका उजागर हो रही है।

0
271

AIN NEWS 1: आज हम आपको बताते हैं के जमीन बेचने के नाम पर हुए क़रीब 100 करोड़ रूपए के घोटालो में अब जैसे- जैसे पुलिस की तफ्तीश आगे बढ़ती जा रही है वैसे वैसे इसमें कई सारे नए चेहरों की भी महत्वपूर्ण भूमिका उजागर हो रही है। पुलिस द्वारा की जा रही तफ्तीश में प्रॉपर्टी डीलर से संत बने एक आरोपी का जेल जाना भी लगभग तय है, उसकी गिरफ्तारी के लिए काफ़ी ज्यादा ठोस साक्ष्य एकत्र कर चुकी एसआईटी अब कभी भी उसकी गिरफ्तारी कर सकती है। इस आरोपी प्रॉपर्टी डीलर ने सत्तारूढ़ दल के नेताओं का संरक्षण पाकर एसआईटी पर भी दबाव बनाने की पूरी कोशिश की है। हरिद्वार जिले के बहादराबाद क्षेत्र में ही ऑक्टोगन बिल्डर के भूमि घोटाले की परत अब रोजाना ही खुलकर सामने आ रही है। पिछले दिनों ही बहादराबाद पुलिस ने इस बिल्डर कुलदीप नंदराजोग, उसकी सहयोगी युवती को भी गैंगस्ट एक्ट के तहत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।उस समय भी इस आरोपी के खिलाफ बहादराबाद थाने में कुल चालीस से अधिक मुकदमें दर्ज होने की बात भी सामने आई थी। अभी गैंगस्टर एक्ट में ही बिल्डर के पिता समेत कई सारे और आरोपी इस मामले में फरार चल रहे है। एसएसपी प्रमेंद्र डोबाल ने इस पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए ही इस पूरे मामले की गहनता से जांच पड़ताल करने के लिए एक एसआईटी भी गठित कर दी थी।

इस एसआईटी की जांच में इस बिल्डर से जुड़े हुए कई एक अन्य प्रॉपर्टी डीलर के नाम भी सामने आया है, जिसने ही इन सभी पीड़ितों से इकरारनामे भी किया थे।

इस पूरे फर्जीवाडे में शामिल आरोपी प्रॉपर्टी डीलर ने अब भगवा धारण करते हुए अपनी पहचान को भी बदल लिया है। पहचान बदलने के पीछे उसका मकसद केवल इस फर्जीवाड़ से खुद को पूरी तरह से बाहर निकालना है, इसके लिए ही वह अब रसूखदार संतों से लेकर बड़े नेताओं की शरण में भी पहुंच गया है ।

लेकीन इस पर भी, पुलिस महकमा उसे बख्शने के मूड में कतई नहीं है। एसआईटी सूत्रों की माने तो यह जल्द ही आरोपी संत की गिरफ्तारी भी हो सकती है, उसके खिलाफ मे प्रर्याप्त सभी साक्ष्य एकत्र भी हो चुके है। इस पूरे मामले में ही एसएसपी प्रमेंद्र सिंह बाल ने बताया कि संत की भूमिका को लेकर भी पड़ताल में साक्ष्य मिले है, जल्द ही एसआईटी अपनी कार्रवाई करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here