सावधान:बाजार में धड़ल्ले से बिक रहे हैं नकली बादाम, जो आपकी सेहत को पहुंचा सकते हैं गंभीर नुकसान?

जैसा कि आप सभी जानते है बादाम हमारी सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचाने का काम करते हैं

0
1033

AIN NEWS 1: जैसा कि आप सभी जानते है बादाम हमारी सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचाने का काम करते हैं। और यही वजह है कि हेल्थ एक्सपर्ट्स इन्हें हमारी डाइट का हिस्सा बनाने की सलाह भी देते हैं। खासकर सर्दी के मौसम में तो बादाम अधिक खाए जाते हैं। हालांकि यहां हम आपको बता दें कि इस दौरान बाजार में काफ़ी ज्यादा मात्रा में नकली बादाम बिकने की खबर भी खूब सुनने को मिलती ही रहती है। कई सारे दुकानदार अधिक मुनाफा कमाने के चक्कर में ऐसे नकली बादामों की बिक्री करने लग जाते हैं, जो ना केवल आपकी जेब पर काफ़ी भारी पड़ते हैं बल्कि इनके सेवन से आपकी सेहत को किसी तरह से फ़ायदा होने के विपरीत कई सारे गंभीर नुकसान भी पहुंच सकते हैं। आज हम इस ऐसे ही लेख में हम आपको कुछ ऐसी कुछ खास टिप्स बता रहे हैं, जिनकी मदद से आप काफ़ी आसानी से असली और नकली बादाम में फर्क कर सकते हैं।

सबसे पहले आप रंग पर दें ध्यान

यहां हम आपको बता दें के अधिकतर दुकानदार बादाम को अच्छा दिखाने के चक्कर में उनपर पोलिश कर देते हैं। ऐसे में आप इसके रंग पर ध्यान देकर सही और गलत की आसानी से पहचान कर सकते हैं। बता दें कि असली बादाम का रंग केवल ब्राउन होता है, जबकि नकली बादाम का रंग पोलिश करने के बाद मे अधिक डार्क हो जाता है।वहीं, अगर आप इसे देखकर रंग की पहचान नहीं कर पा रहे हैं, तो आप 3 से 4 बादाम लेकर उन्हें अपने हाथों पर रगड़ें। ऐसा करने पर अगर उस बादाम का रंग निकलने लगे, तो समझ जाएं कि ये पूरी तरह से नकली हैं। इसके अलावा आप 4 से 5 बादाम को कुछ समय के लिए किसी बर्तन में पानी में भिगोकर भी रख सकते हैं। पानी में रखने से बादाम पर लगी हुई पोलिश उतरने लगती है। इसके साथ ही बादाम की खरीदारी करते समय आप एक पेपर अपने साथ रखें इसकी मदद से भी आप आसानी से इसके असली और नकली होने की पहचान कर सकते हैं। इसके लिए भी 3 से 4 बादाम की गिरी को कागज में रखकर हल्का सा दबाकर पीस लें। अगर इस दौरान आपकों कागज पर बादाम का तेल नजर आए, तो समझ लें कि ये ही असली हैं। वहीं, अगर इससे कागज पर तेल निकलने की बजाय उसपर पर रंग छूटा हुआ है, तो ऐसे बादाम पूरी तरह से नकली हो सकते हैं, जिन्हें ऐसी ही भी पॉलिशिंग करके तैयार किया जाता है।

आप बादाम के स्वाद से भी करें जांच

आप केवल 2 से 3 बादाम को चखकर इनकी गुणवत्ता का पता आसानी से लगा सकते हैं। दरअसल, नकली बादाम का जो स्वाद होता है वो असली के मुकाबले थोड़ा अधिक कड़वा होता है। साथ ही असली बादाम को आप पानी में भिकोगर रखने से इसमें कड़वाहट और भी ज्यादा कम हो जाती है।

इसके साथ ही जरूरी छिलके से लगाएं पता

असली बादाम को पानी में कुछ देर तक भिगोने के बाद से ही इसके छिलकों को उतारना बेहद आसान हो जाता है। ऐसे में कुछ बादाम को लेकर इन्हें पानी में भिगोकर रखें। ऐसा करने पर अगर बादाम से छिलका आसानी से उतर रहा है, तो समझ जाएं कि ये पूरी तरह से असली हैं, अगर इसका छिलका उतारने में कोई परेशानी हो रही हैं, तो ऐसे बादान खरीदने से ही बचें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here