मेरठ में दिल्ली-देहरादून हाईवे पर होटल बिस्मिल्लाह के मालिक की दबंगई, ट्रैफिक पुलिस कर्मी हटाने गए ट्रक तो उनके साथ ही कर दी मारपीट?

1
782

AIN NEWS 1Meerut: उत्तर प्रदेश के मेरठ में हाईवे पर बने एक होटल के बाहर खड़े हुए ट्रक को हटवाना वहा ट्रैफिक सिपाहियों को काफ़ी ज्यादा भारी पड़ गया. होटल मालिक और कर्मचारी इन सिपाहियों से ही उलझ बैठे और नौबत आपस मे मारपीट तक की आ गई. इस दौरान ट्रैफिक सिपाहियों को खूब जमकर पीटा गया और आरोप तो यह भी है कि उनकी वर्दी तक भी फाड़ दी गई. इसके बाद जब साथी पुलिसकर्मियों ने कुछ सख्ती की तो फिर उनसे भी अभद्रता की गई. इस मौके पर पुलिस को वहा लाठियां भी फटकारनी पड़ी.यह पूरा मामला ही कंकरखेड़ा थाना इलाके के दिल्ली देहरादून खडौली गांव के एक होटल बिस्मिल्लाह का बताया जा रहा है. यहां पर कई सारे ट्रक सड़क के किनारे खड़े होने से काफ़ी ज्यादा जाम लग रहा था. इस दौरान ट्रैफिक सिपाही विकास यादव वहा इन ट्रक को हटवाने के लिए पहुंचा तो होटल मालिक ने इन ड्राइवर को खाना देने के बाद ये सभी ट्रक हटवाने की बात कही. इस पर वहा कहासुनी हो गई और देखते ही देखते वो आपस मे मारपीट में भी बदल गई. इस दौरान आरोप है कि होटल मालिक ने अपने कर्मचारियों और कुछ महिलाओं को वहा पर बुला लिया, जिन्होंने ट्रैफिक सिपाही विकास यादव के साथ मे मारपीट करते हुए उसकी वर्दी तक फाड़ दी और उसके बचाव में आए सिपाही से भी उन सभी लोगों ने अभद्रता कर उसकी वर्दी भी फाड़ डाली. इस सिपाही ने कंकरखेड़ा थाने में फोन कर दिया और पुलिस ने मौके से छह लोगों को हिरासत में ले लिया.

वहा मौजूद लोग बनाते रहे मारपीट का वीडियो लेकिन नहीं किया बीच बचाव 

यहां हम आपको बता दें जिस वक्त होटल बिस्मिल्लाह पर यह पूरा हंगामा हो रहा था, वहां पर लोग भी खड़े थे. ट्रैफिक पुलिस से धक्का मुक्की हो रही थी और उनसे अभद्रता की जा रही थी. उस वक्त कोई भी बीच बचाव कराने के लिए नहीं आया. बल्कि कुछ लोग मोबाइल फोन से इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाने में ही मशगूल रहे. आरोप है की ट्रैफिक सिपाही विकास यादव और दूसरे सिपाही से उस समय मारपीट करने वालों में होटल का मालिक, उसका बेटा और उनके कर्मचारी भी शामिल थे. सिपाही से मारपीट करने वालों के हौसले इतने ज्यादा बुलंद थे कि उन्होंने उसकी वर्दी की भी शर्म नहीं की.

यहां पर ट्रक खड़े होने से खडौली के बाहर हाईवे पर लग जाता है जाम

खडौली के पास ही अक्सर जाम लगा रहता है. इस जाम की वजह ही है होटल बिस्मिल्लाह के बाहर खड़े होने वाले सभी ट्रक. कई बार आसानी से ये ट्रक हटा लिए जाते हैं और कई बार बहुत ज्यादा वक्त लग जाता है. पुलिस की भी इस मामले में बहुत बड़ी लापरवाही रहती है कि पुलिस इनपर सख्त एक्शन नहीं लेती. इसी का फायदा उठाकर होटल मालिक के हौसले काफ़ी ज्यादा बुलंद रहते हैं और कई बार लोगों को इस तरह से भीषण जाम का सामना करना पड़ता है.

पुलिस ने इस दौरान कुल 6 लोगों को हिरासत में लिया

इस दौरान ट्रैफिक सिपाही से मारपीट और वर्दी फाड़ने का यह पूरा मामला गरमा गया है. इस पूरे घटनाक्रम मे आला अधिकारी बेहद ही गुस्से में हैं. कंकरखेड़ा थाना पुलिस ने अब कुल 6 लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि कई और की गिरफ्तारी के लिए अभी दबिश दी जा रही है. इस दौरान एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह का भी कहना है कि ट्रैफिक सिपाहियों से इस तरह अभद्रता करने और मारपीट करने वालों पर काफ़ी सख्त एक्शन लेंगे, किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा. इन सभी पर गंभीर धाराओं में मुकदमा भी दर्ज कर लिया गया है.

1 COMMENT

  1. It’s clear that the hotel is owned by a Muslim who are known to be criminals and anti national forces. They should be taught a very good lesson.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here