उत्तर प्रदेश: मुरादाबाद में सरकारी नल से अचानक निकला ‘दूध’, लोग लगाने लगे जयकारे, जानें इसकी पूरी सच्‍चाई!

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक सरकारी चापानल से अचानक सफेद पानी निकलने का मामला काफ़ी ज्यादा गरमा गया।

0
724

AIN NEWS 1 मुरादबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक सरकारी चापानल से अचानक सफेद पानी निकलने का मामला काफ़ी ज्यादा गरमा गया। चापानल से पानी के स्थान पर दूध निकलने की खबर ने हर तरफ लोगों में अलग ही उत्सुकता जगा दी। कुछ लोग तो वहा इसे केमिकल रिएक्शन बताते रहे। वहीं, कुछ लोगों ने इस घटना को एक बड़ा चमत्कार भी बताया। वहीं, मौके पर पहुंचे कुछ लोग भगवान शिव के जयकारे वहा पर लगाने लगे। जिससे देखते ही देखते चारो तरफ ‘ऊं नम: शिवाय’ का एक जाप शुरू हो गया। पूरी तरह से अंधविश्वास में फंसकर लोग चापानल से सफेद पानी अपने साथ लेकर आई हुई बोतलों में भरकर ले जाने लगे। कुछ लोग तो इस पानी को वहीं पर पीने भी लगे। हालांकि, डॉक्टरों ने इस प्रकार के पानी को पीने से लोगों को साफ मना किया है। इससे संबंधित कई सारी वीडियो सोशल मीडिया पर खूब ज्यादा वायरल हो रहा है। यह पूरी घटना ही शनिवार की बताई जा रही है। रविवार को भी यहां पर भारी संख्या में लोग सफेद पानी को भरने इस नल पर पहुंचे, लेकिन वहां पर साफ पानी निकला। इसके बाद से लगातार चमत्कार की चर्चा चारो तरफ हो रही है।

हालाकि इसके कारण का अभी तक नहीं चल पाया पता

चापानल से सफेद पानी निकलने के कारणों का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है। कहीं किसी ने इस चापानल में किसी प्रकार का केमिकल डालकर कोई बदमाशी तो नहीं की? यह सवाल भी काफ़ी लोगो द्वारा उठाए जा रहे हैं। हालांकि, पूरी तरह से अंधविश्वास में फंसकर लोग इसे भगवान का चमत्कार भी बताते रहे। देखते ही देखते यह पूरा मामला तूल पकड़ता चला गया। चापानल से इस तरह से दूध निकलने की अफवाह फैलती चली गई। देखते ही देखते वहां पर हजारों लोग बोतल- बाल्टी के साथ वहा पहुंच गए। हालांकि, केमिकल रिएक्शन की बात करने वाले लोग भी यह तय नहीं कर पाए कि सफेद पानी आने का आखिर सही कारण क्या रहा। वहीं, बड़ी ज्यादा संख्या में लोगों ने इसे दूध समझकर उपयोग करना भी शुरू कर दिया। वहा पर भगवान शिव के जयकारे भी लगने लगे।

यह पूरी तरह बस स्टैंड के नल पर घटी थी घटना

यहां हम आपको बता दें मुरादाबाद के मलारी बस स्टैंड पर ही यह घटना घटी। यहां पर स्थित सरकारी नल से शनिवार की शाम अचानक सफेद पानी निकलने लगा। इसकी पूरी जानकारी पूरे शहर में ही आग की तरफ फैली। इसके बाद से ही लोग इस सफेद पानी को दूध की तरह भरकर ले भी जाने लगे। घंटों तक ही नल से यह सफेद पानी निकलता ही रहा। हालांकि, किस आधार पर केमिकल रिएक्शन के कारण इस प्रकार का सफेद पानी निकला, इसकी कोई भी ठोस जानकारी नहीं मिल पाई। दरअसल, नल से आ रहे पानी को पीने वाले लोगों ने वहा पर इसमें किसी प्रकार का गंध होने या इसके खारा होने से भी इनकार किया। वहा पर स्थानीय लोगों ने इसे भगवान शिव का चमत्कार बताकर इसे दूध साबित करने की भी पूरी कोशिश की। उन्होने इसका उपयोग भी शुरू कर दिया। कई लोग इस दूध को पीते भी हुए दिखाई दिए। अभी इस सफेद पानी निकलने के सही कारणों को लेकर कोई भी ठोस दावा नहीं किया गया है। हालांकि, डॉक्टरों का इस पूरे प्रकरण में कहना है कि इस प्रकार का पानी पीने से स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं कोई भी आ सकती हैं। इसलिए, इससे पूरी तरह से बचना चाहिए।

पानी का रंग भी हुआ पूरी तरह से साफ

इस बिलारी के बस स्टैंड स्थित सरकारी हैंड पंप से ही शनिवार को सफेद दूध की तरह से पानी निकालने की अपवाह के बाद से ही भारी संख्या में लोग वहा जमा हो गए थे। ये सभी लोग पानी भरने ही यहां पहुंचे थे। इस बीच ही वहा पर अंधविश्वासी लोगों ने भगवान के जयकारे लगाने शुरू कर दिए और सभी लोगो ने भी लगे पानी को दूध बताया। कुछ लोग इस पानी को बोतलों में भरकर भी ले गए। दूध समझकर उसे पीना भी शुरू कर दिया था, लेकिन रविवार को दूसरे दिन इस हैंड पंप से सादा पानी ही निकला। माना जा रहा है किसी ने हैंडपंप के भीतर कोई इस तरह का केमिकल डाला, जिसकी वजह से ही इससे यह पानी सफेद रंग का हो गया था। इस पूरे मामले की ही जांच की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here