Wednesday, July 17, 2024

Morning News Brief :शिक्षा मंत्री ने माना- NEET में गड़बड़ी हुई; NCERT की नई किताब में बाबरी मस्जिद का जिक्र नहीं; मानसून गुजरात में अटका

- Advertisement -
Ads
- Advertisement -
Ads

नमस्कार,

कल की बड़ी खबर NEET एग्जाम से जुड़ी रही, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पहली बार स्वीकार किया है कि एग्जाम में गड़बड़ी हुई है। एक खबर NCERT के सिलेबस में बदलाव से जुड़ी रही।

लेकिन कल की बड़ी खबरों से पहले आज के प्रमुख इवेंट्स, जिन पर रहेगी नजर…

  1. कर्नाटक में पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के विरोध में भाजपा विधानसभा के सामने विरोध-प्रदर्शन करेगी।
  2. न्यूजीलैंड और पापुआ न्यू गिनी के बीच टी-20 वर्ल्ड कप मैच खेला जाएगा।

अब कल की बड़ी खबरें…

Table of Contents

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने माना- NEET में गड़बड़ी हुई, NTA में सुधार की जरूरत

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पहले किसी भी गड़बड़ी से इनकार किया था। उन्होंने 16 जून को ओडिशा के संबलपुर में गड़बड़ी की बात स्वीकार की है।

देशभर में NEET UG 2024 एग्जाम को लेकर स्टूडेंट्स विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने स्वीकार किया कि एग्जाम में गड़बड़ियां हुई हैं। उन्होंने कहा, ‘NEET एग्जाम में दो गड़बड़ियां हुई हैं और जो लोग इस धांधली में शामिल हैं, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा, चाहे वे NTA के बड़े अधिकारी ही क्यों न हों। NTA में सुधार की जरूरत है और सरकार इस पर विचार कर रही है।’

NEET 2024 एग्जाम का विवरण:

  • तारीख: 5 मई 2024
  • स्टूडेंट्स: 23 लाख 30 हजार
  • रिजल्ट: 4 जून 2024 को जारी
  • टॉप स्कोरर: 67 स्टूडेंट्स को 720 में से पूरे 720 मार्क्स मिले, जो कि पहली बार हुआ है।

इस असामान्य रिजल्ट पर स्टूडेंट्स ने सवाल उठाए हैं। कई राज्यों में पेपर लीक के आरोप लगे हैं और बिहार और गुजरात से गिरफ्तारियां भी हुई हैं।

सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई:

एग्जाम और रिजल्ट में गड़बड़ियों को लेकर सुप्रीम कोर्ट और विभिन्न हाईकोर्ट्स में कई याचिकाएं दायर हुई हैं। याचिकाओं में NEET पेपर लीक की CBI जांच, परीक्षा को रद्द करने और फिर से एग्जाम कराने की मांग की गई है। इन मामलों पर सुप्रीम कोर्ट 8 जुलाई को सुनवाई करेगा।

 

 

NCERT की नई किताब में बाबरी मस्जिद का जिक्र नहीं, इसे तीन गुंबद वाला ढांचा लिखा

NCERT की 12वीं कक्षा की पॉलिटिकल साइंस की नई किताब में बाबरी मस्जिद, भगवान राम, श्री राम, रथ यात्रा, कारसेवा और विध्वंस के बाद की हिंसा का जिक्र हटा दिया गया है। इसके बजाय बाबरी मस्जिद को “तीन गुंबद वाला ढांचा” और अयोध्या विवाद को “अयोध्या विषय” के नाम से पढ़ाया जाएगा। इस विषय को पहले 4 पेज में पढ़ाया जाता था, लेकिन अब इसे घटाकर 2 पेज का कर दिया गया है।

संशोधन की वजह:

इस संशोधन पर NCERT के डायरेक्टर दिनेश प्रसाद सकलानी ने कहा, “हमें स्कूल में दंगों के बारे में क्यों पढ़ाना चाहिए? हम सकारात्मक नागरिक बनाना चाहते हैं, न कि हिंसक और अवसादग्रस्त इंसान।”

2014 के बाद से चौथी बार संशोधन:

  1. 2017: हाल की घटनाओं को शामिल करने के लिए संशोधन।
  2. 2018: सिलेबस का बोझ कम करने के लिए संशोधन।
  3. 2021: कोविड के कारण पढ़ाई में हुई दिक्कतों से उबरने के लिए संशोधन।
  4. 2024: बाबरी मस्जिद विवाद और हिंसा का संदर्भ हटाने के लिए संशोधन।

NCERT की टेक्स्ट बुक्स में 2014 के बाद से यह चौथा बड़ा संशोधन है।

 

 

मोदी के जम्मू-कश्मीर दौरे से पहले शाह की मीटिंग, कहा- आतंकवाद को कुचलें, मददगारों को भी न बख्शें

दिल्ली में हुई हाईलेवल मीटिंग में जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और NSA अजित डोभाल भी शामिल हुए।

गृहमंत्री अमित शाह ने जम्मू-कश्मीर की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एक हाईलेवल मीटिंग की। इस मीटिंग में शाह ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि आतंकवाद को पूरी तरह से कुचला जाए और आतंकियों की मदद करने वालों पर भी सख्ती बरती जाए। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सभी तीर्थ स्थलों और पर्यटन स्थलों पर सुरक्षा व्यवस्था और बढ़ाई जाए।

प्रमुख बिंदु:

  1. प्रधानमंत्री का दौरा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 जून को श्रीनगर में योग दिवस के कार्यक्रम के लिए आ रहे हैं। इसके साथ ही 29 जून से अमरनाथ यात्रा भी शुरू हो रही है।
  2. सुरक्षा निर्देश: शाह ने अधिकारियों से अमरनाथ यात्रा रूट और नेशनल हाईवे पर अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात करने को कहा है।

J&K की सुरक्षा व्यवस्था पर चौथी मीटिंग:

  • 13 जून: प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू-कश्मीर में हुई आतंकी घटनाओं को लेकर मीटिंग की।
  • 14 जून: अमित शाह ने सुरक्षा व्यवस्था को लेकर एक और मीटिंग की।
  • 15 जून: जम्मू-कश्मीर के LG मनोज सिन्हा ने रिव्यू मीटिंग की।
  • 16 जून: अमित शाह ने चौथी हाईलेवल मीटिंग की।

शाह ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे हरसंभव कदम उठाएं ताकि आतंकवाद और उससे जुड़े सभी तत्वों पर कड़ी नजर रखी जा सके और उनकी गतिविधियों को पूरी तरह से समाप्त किया जा सके।

 

गुजरात में मानसून रुका, MP में 2 दिन बाद पहुंचेगा; UP का प्रयागराज देश में सबसे गर्म

IMD Weather Monsoon Update; Rajasthan North East Gujarat Rainfall MP UP Bihar Heatwave Alert | गुजरात में मानसून रुका, MP में 3 दिन बाद पहुंचेगा: नॉर्थ-ईस्ट में बारिश का रेड अलर्ट ...

गुजरात में 11 जून को प्रवेश करने के बाद मानसून रुक गया है। 10-14 जून के बाद से मानसून स्थिर हो गया है और कमजोर पड़ गया है, जिसके कारण यह MP और अन्य राज्यों में 18-19 जून तक पहुंच सकता है।

प्रमुख बिंदु:

  1. UP का सबसे गर्म शहर: प्रयागराज में रविवार को अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जिससे यह देश का सबसे गर्म स्थान रहा। झांसी में पारा 47.1 डिग्री, वाराणसी और कानपुर में 46.8 डिग्री दर्ज किया गया। पंजाब के लुधियाना और हरियाणा के नूंह में पारा 47.2 डिग्री तक पहुंचा।
  2. लू और बारिश का अलर्ट:
    • लू का अलर्ट: मौसम विभाग ने UP, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, जम्मू, हिमाचल, पंजाब, राजस्थान, बिहार और झारखंड के कई इलाकों में 20 जून तक लू का अलर्ट जारी किया है।
    • बारिश का अलर्ट: पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय में अगले 3-4 दिनों तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है।

विस्तार:

मानसून की स्थिति: गुजरात में 11 जून को एंट्री लेने के बाद से मानसून की प्रगति रुक गई है। यह स्थिर स्थिति 10-14 जून के बीच देखी गई, जिससे मानसून कमजोर हो गया है। अब यह MP और अन्य राज्यों में 18-19 जून तक पहुंचने की संभावना है।

तापमान: उत्तर प्रदेश का प्रयागराज रविवार को देश का सबसे गर्म स्थान रहा, जहां अधिकतम तापमान 47.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसी तरह झांसी, वाराणसी, कानपुर, लुधियाना और नूंह में भी तापमान अत्यधिक उच्च रहा।

मौसम विभाग के अलर्ट: मौसम विभाग ने विभिन्न राज्यों में लू और बारिश के अलर्ट जारी किए हैं। पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय में भारी बारिश का अलर्ट है, जबकि उत्तर भारत के कई राज्यों में लू का अलर्ट जारी किया गया है।

 

 

कुवैत में सड़कों पर रात बिता रहे राजस्थान के मजदूर

कुवैत में बिल्डिंग खाली कराने के बाद राजस्थान के बांसवाड़ा-डूंगरपुर जिले के मजदूर सड़कों पर रहने को मजबूर हैं।

कुवैत के बनैद अल गर शहर में बड़ी संख्या में राजस्थान के मजदूर सड़कों पर रात बिताने को मजबूर हैं। इन मजदूरों की स्थिति बेहद खराब हो गई है, क्योंकि उनके रहने की जगहों के बिजली कनेक्शन बिना किसी सूचना के काट दिए गए और उन्हें इमारतें खाली करने को कहा गया है।

प्रमुख बिंदु:

  1. मजदूरों की स्थिति:
    • रातें सड़कों पर: राजस्थान के बांसवाड़ा के मजदूरों ने बताया कि बिजली कनेक्शन काटने के बाद उन्हें इमारतें खाली करने को कहा गया। अब उनके पास रहने के लिए कोई जगह नहीं है और वे सड़कों पर रात बिता रहे हैं।
    • काम और रहने की समस्या: किराए पर नए कमरे भी नहीं मिल रहे हैं। मजदूरों का सामान सड़क पर पड़ा है और वे काम पर भी नहीं जा पा रहे हैं।
  2. कारण:
    • असुरक्षित इमारतें खाली कराई जा रही हैं: 12 जून को कुवैत के मंगाफ शहर में 6 मंजिला इमारत में आग लगने से 49 मजदूरों की मौत हो गई थी, जिनमें से 45 भारतीय थे। इस हादसे के बाद कुवैत में जर्जर और असुरक्षित इमारतों को खाली कराया जा रहा है।

विस्तार:

मजदूरों की मुश्किलें: कुवैत के इस्तिकलाल इलाके में रहने वाले राजस्थान के मजदूरों के पास अब कोई सुरक्षित ठिकाना नहीं है। बिजली कनेक्शन काटने और इमारतें खाली कराने के आदेश के बाद से उनके पास कोई अन्य विकल्प नहीं बचा है। किराए पर नए कमरे न मिलने के कारण वे सड़कों पर ही रह रहे हैं।

असुरक्षित इमारतों का मुद्दा: मंगाफ शहर में हुए हादसे के बाद कुवैत सरकार ने जर्जर और असुरक्षित इमारतों को खाली कराने का अभियान चलाया है। इस अभियान के तहत बड़ी संख्या में मजदूरों को उनके रहने की जगहों से निकाल दिया गया है, जिससे उनकी स्थिति और भी खराब हो गई है।

कुवैत में रह रहे मजदूरों की यह स्थिति बेहद चिंताजनक है और इस पर तत्काल ध्यान देने की आवश्यकता है ताकि वे सुरक्षित और सम्मानजनक जीवन जी सकें।

 

 

दिल्ली जल बोर्ड ऑफिस में तोड़फोड़, मटके फेंके; आतिशी ने BJP पर आरोप लगाया

दिल्ली में जल संकट को लेकर विवाद हिंसक हो गया है। सैकड़ों लोगों ने छतरपुर जल बोर्ड ऑफिस पर पथराव और तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने ऑफिस पर मटके भी फेंके। दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी ने आरोप लगाया कि दक्षिण दिल्ली के पूर्व सांसद रमेश बिधूड़ी ने भाजपा के गुंडों को लेकर आकर तोड़फोड़ करवाई।

प्रमुख बिंदु:

  1. तोड़फोड़ और पथराव: छतरपुर जल बोर्ड ऑफिस पर सैकड़ों लोगों ने पथराव और तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने ऑफिस पर मटके फेंके।
  2. आतिशी का आरोप: दिल्ली सरकार की मंत्री आतिशी ने कहा कि भाजपा नेता रमेश बिधूड़ी ने भाजपा के गुंडों को लेकर आकर तोड़फोड़ करवाई।
  3. BJP का मटका फोड़ प्रदर्शन: भाजपा ने जल संकट को लेकर राजधानी में 14 जगहों पर केजरीवाल सरकार के खिलाफ मटका फोड़ प्रदर्शन किया।

BJP की प्रतिक्रिया:

नई दिल्ली की सांसद बांसुरी स्वराज ने कहा कि पानी की किल्लत AAP सरकार की देन है। इससे पहले 16 जून को दिल्ली कांग्रेस ने भी आम आदमी पार्टी के खिलाफ मटका फोड़ प्रदर्शन किया था।

 

 

जापान में स्ट्रेप्टोकॉकल टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम (STSS): मांस खाने वाले बैक्टीरिया से संक्रमित होने पर 48 घंटे में मौत का खतरा

STSS के शुरुआती लक्षणों में पहले सूजन आती है। इसके बाद टिशू डैमेज होने लगते हैं।

जापान में एक गंभीर स्वास्थ्य संकट की रिपोर्ट आई है, जिसमें बैक्टीरिया स्ट्रेप्टोकॉकल टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम (STSS) नामक बीमारी के कारण मरीजों की मौत हो रही है। इस बीमारी से अब तक जापान में 977 मामले सामने आए हैं। इसमें बच्चे और बुजुर्ग व्यक्तियों को सबसे ज्यादा प्रभावित किया गया है।

बीमारी के लक्षण:

  1. प्रारंभिक लक्षण: संक्रमित होने के बाद बुखार, सूजन, और गले में खराश जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।
  2. गंभीर लक्षण: इसके बाद शरीर में दर्द, लो ब्लड प्रेशर, नेक्रोसिस (त्वचा और अंगों का मृत भाग), सांस लेने में समस्या, और ऑर्गन फेलियर जैसी समस्याएं होती हैं।
  3. मौत का खतरा: इस बीमारी से प्रभावित व्यक्ति की मौत के खतरे का अंदाज़ 48 घंटे में होता है।

उपचार और वैक्सीन:

  • उपचार: इस बीमारी से बचने के लिए जल्दी से जाँच, सही देखभाल और उपयुक्त इलाज की आवश्यकता होती है। अंतिम समाधान के लिए, एंटीबायोटिक उपयोग किया जाता है।
  • वैक्सीन (J8): इस समस्या के खिलाफ वैक्सीन भी उपलब्ध है, जो शरीर में एंटीबायोटिक उत्पन्न करती है।

बचाव के उपाय:

  • साफ पानी पर ध्यान रखें और स्वच्छता का पालन करें।
  • बैक्टीरिया संदर्भित व्यक्तियों से संपर्क से बचें।
  • वैक्सीन की सही जाँच और उपयोग करें जब भी आवश्यक।

इस गंभीर स्वास्थ्य समस्या के संबंध में लोगों को जागरूक रहना और स्वस्थ जीवनशैली अपनाना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

- Advertisement -
Ads
AIN NEWS 1
AIN NEWS 1https://ainnews1.com
सत्यमेव जयते नानृतं सत्येन पन्था विततो देवयानः।
Ads

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisement
Polls
Trending
Rashifal
Live Cricket Score
Weather Forecast
Latest news
Related news
- Advertisement -
Ads