New Year 2024: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में नए साल के जश्न में खूब ज्यादा छलके जाम, एक रात में ही सात करोड़ की शराब गटक गए शहरी?

0
329

AIN NEWS 1 उत्तर प्रदेश: गाजियाबाद में इस नए साल के जश्न में सभी शहरवासियों ने खूब जाम छलकाए। 31 दिसंबर की सुबह ही 10:00 बजे से लेकर रात के 11:00 बजे तक ही 500 शराब की दुकानों पर काफ़ी भारी भीड़ उमड़ी रही थी। सूत्रों से प्राप्त ताजा जानकारी के मुताबिक, इस नए साल का जश्न मनाते हुए शहर के लोग क़रीब सात करोड़ की शराब को गटक गए। जिला गाज़ियाबाद आबकारी अधिकारी राकेश कुमार के मुताबिक चार करोड़ रुपये की शराब की बिक्री रोज ही होती है, लेकिन 31 दिसंबर को यह बिक्री बढ़कर क़रीब सात करोड़ तक पहुंच गई।वहीं,शहर में भी 32 स्थाई बार और 54 अस्थाई बार में ही रातभर जाम छलकते रहे।

बता दें पलकें बिछाकर किया नव वर्ष का स्वागत

यहां हम आपको बता दें ट्रांस हिंडन ने नव वर्ष का पलकें बिछाकर स्वागत किया। 12 बजते ही आकाश में उड़ते आतिशबाजी का शानदार नजारा देखने को भी मिला। जैसे की घड़ी में 12 बजे लोग इसके जश्न में डूब गए। इसी प्रकार होटल, रेस्टोरेंट, माल, सोसायटियों में देर रात तक जमकर काफ़ी जश्न मनाया गया।

यहां पर सोसायटियों में मनाया गया जश्न

इंदिरापुरम की शिप्रा सन सिटी में भी रविवार दोपहर 12 बजे से रात 12 बजे के बाद तक व्यंजन, उपहार आदि के स्टाल भी लगे रहे। बच्चों के लिए झूला, खिलौना आदि दुकान भी लगाई गई। 12 बजते ही बच्चों से लेकर बड़ो तक तक ने इस बार जश्न मनाया। शिप्रा सन सिटी फेज दो सीपी बालियान ने भी बताया अलग- अलग ग्रुप में लोगों ने यह पार्टी की।शिप्रा रिवेरा में भी लोगों ने अपने-अपने स्तर से ही काफ़ी जश्न मनाया। सनराइज ग्रीन में भी सोसायटी में भी तेज़ म्यूजिक पर लोगों ने काफ़ी जमकर डांस किया। वसुंधरा, वैशाली, शालीमार गार्डन राजेंद्र नगर आदि कालोनी में भी लोगों ने समूह में ही जश्न मनाया।

एटीएस एडवांटेज सोसायटी के लोगों ने बालीवुड के गानों पर काफ़ी जमकर डांस किया। बच्चों एवं महिलाओं ने समूह में केक भी काटा। वसुंधरा की आलिव काउंटी सोसायटी में भी सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन कर यह जश्न मनाया गया। लोगों ने देर शाम से ही ढोल नंगाड़ों के साथ डांस करना शुरू कर दिया था। रात 12 बजे के बाद यहां लोगों ने केक भी काटा।

यहां पर रातभर ही सजी रहीं दुकानें

इंदिरापुरम में भी रेस्टोरेंट देर रात तक खुले रहे। खाने-पीने की एक से बढ़कर एक व्यंजन उपलब्ध रहे। जो दुकानें 10 बजे रोज़ बंद हो जाती थीं, वह 12 बजे के बाद तक ही खुली रही। विभिन्न माल में 12 बजते ही काफ़ी तेज आवाज से संगीत बजाया गया। इस संगीत पर युवाओं ने डांस करना भी शुरू कर दिया। माल व बाजार को रंग बिरंगी लाइटों से ही सजे रहे। इन सभी स्थानों पर 12 बजे केक भी काटा गया।

शहर के मंदिरों में की गई पूजा अर्चना की तैयारी

कुछ लोगों ने इस नव वर्ष पर मंदिर में जाकर पूजा अर्चना भी की। हालांकि ज्यादातर लोग सोमवार को ही मंदिर जाएंगे। ऐसे में मोहननगर मंदिर मोहननगर, शीतला माता मंदिर मोहननगर, शिव शक्ति धाम मंदिर साहिबाबाद, गौरी शंकर विहार मंदिर शालीमार गार्डन, सनातन धर्म मंदिर वसुंधरा, रामजानकी मंदिर वैशाली, सांई मंदिर इंदिरापुरम सहित अन्य सभी छोटे-बड़े मंदिरों में पूजा अर्चना की भी तैयारी की गई है। सोमवार शाम तक मंदिरों में काफ़ी भीड़ रहने का अनुमान हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here