UK: जमकर पी शराब फिर खाई वियाग्रा, जोश में खो दिया होश तो हो गया ये हादसा

बता दें ब्रिटेन में अपनी जिंदगी के बेहद खास दिन एक कपल ने जोश में होश खोया और उसके बाद मिला दर्द वो अभी तक भुला नहीं पाए होंगे. लिवरपूल में रहने...

0
429

AIN NEWS 1 : बता दें ब्रिटेन में अपनी जिंदगी के बेहद खास दिन एक कपल ने जोश में होश खोया और उसके बाद मिला दर्द वो अभी तक भुला नहीं पाए होंगे. लिवरपूल में रहने वाला एक कपल इसी साल अपनी तीसरी एनिवर्सरी मनाने के लिए काफी ज्यादा उत्साहित था. दोनों ने सेलिब्रेशन के लिए बड़ी जबरदस्त तैयारी भी की थी. इसी बीच अतिउत्साह में पहले तो दोनों ने जमकर शराब पी. इसी दौरान उन्होंने ऑनलाइन वियाग्रा भी ऑर्डर कर दी.

 

उनका होटल में कमरा भी किया था बुक

‘द सन’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, रॉब एन्ड्रू अपनी 25 साल की गर्लफ्रेंड इजाबेल वूल्फ ने अपनी थर्ड एनिवर्सरी मनाने के लिए जमकर तैयारी की थी. इसके लिए उन्होंने कई दिन पहले शहर से दूर एक होटल में कमरा भी बुक करा लिया था. जहां म्यूजिक और लाइटिंग का बेहद शानदार इंतजाम किया था. अपने स्पेशल दिन को सुपर स्पेशल बनाने के लिए वो होटल में अपने साथ ढ़ेर सारा सामान लेकर पहुंचे गए थे.

फिर अस्पताल पहुंचने के बाद इस कपल ने बताया

कि पहले तो उन्होंने चंद घंटों में ही शराब की तीन बोतलें पूरी गटक लीं. उसके बाद वियाग्रा खाने के बाद दोनों एक दूसरे के करीब आने लगे. सुकून के प्राइवेट और निजी पलों के दौरान बॉयफ्रेंड तो लहूलुहान हो गया. दरअसल इस हादसे में बॉयफ्रेंड रॉब का प्राइवेट पार्ट ही फ्रैक्चर हो गया. जिसके बाद फौरन एंबुलेंस को बुलाकर उसे अस्पताल में ही भर्ती कराना पड़ा.

डॉक्टर बोले डरें नहीं इलाज कराएं

आपको बताते चलें कि इसके बाद रॉब का लंबा इलाज चला. उसे डॉक्टरों ने ढेर सारी नसीहतें देकर डिस्चार्ज किया था. वहीं सही समय पर सही इलाज मिलने की वजह से वह कुछ दिनों के इलाज के बाद वह रिकवर करने लगा था. प्राइवेट पार्ट फ्रैक्चर होने की घटनाएं रेयर तौर पर ही देखने को मिलती हैं, लेकिन डॉक्टरों का यह भी कहना है कि कई बार लोग शर्म की वजह से अस्पताल ही नहीं जाते हैं. लेकिन ऐसी भूल करना एक जानलेवा कदम साबित हो सकता है.आपको बताते चलें कि संबंध बनाने के दौरान प्राइवेट पार्ट फैक्चर की घटनाएं अक्सर सामने आती रहती हैं. 2021 में भी इसी ब्रिटेन में एक शख्स के साथ ऐसा ही हादसा हुआ था जिसकी रिपोर्ट ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित हुई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here