Wrestlers Protest:पहलवानों और दिल्ली पुलिस में हुई झड़प, बजरंग ने कहा- हमारे खिलाफ हो रही है सख्ती!

0
503

AIN NEWS 1: भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर कार्रवाई की मांग को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर पर पहलवानों और पुलिस के बीच बुधवार देर रात को झड़प हो गई। पहलवानों का आरोप है कि बारिश की वजह से उन्होंने यहां पर बेड मंगवाए थे। पुलिस ने धरना स्थल पर पहुंचने से पहले ही उन्हे रोक दिया। इसी दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच काफ़ी ज्यादा धक्कामुक्की हुई। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दुष्यंत फोगाट समेत दो पहलवानों को इस धक्का मुक्की में चोट भी लगी है। वहीं, फोल्डिंग लेकर जंतर-मंतर पर पहुंचे आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती को पुलिस ने अपनी हिरासत में ले लिया है। लेकीन बाद में उनको छोड़ भी दिया गया। इस घटना के बाद जंतर-मंतर पर और अधिक सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं, पहलवान बजरंग पुनिया का साफ़ आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने प्रदर्शनकारी महिला पहलवानों को वहा पर गालियां दीं और उनके साथ मारपीट भी की गई। उन्होंने कहा, हमें इस समय पूरे देश के समर्थन की जरूरत है, सभी को हमारे साथ दिल्ली आना चाहिए। दिल्ली पुलिस हमारे खिलाफ बल का प्रयोग कर रही है। वो महिलाओं को गाली दे रही है और बृजभूषण के खिलाफ कुछ भी नहीं कर रही है। इसके अलावा पहलवानों ने यह भी आरोप लगाया है कि कुछ बाहरी लोगों ने भी यहां शराब पीकर हंगामा किया और काफ़ी ज्यादा बदसलूकी भी की है।

जाने विनेश फोगाट और साक्षी मलिक वहा रो पड़ीं

वहीं, देर रात मीडिया से बात करते हुए पहलवान विनेश फोगाट और साक्षी मलिक तो माइक पर ही रो पड़ीं। उन्होंने कहा कि वे अपनें देश का नाम रोशन करने वाली एक खिलाड़ी हैं, मगर उनके साथ अपराधियों की तरह से बर्ताव किया जा रहा है। आंखों में आंसू लिए विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता विनेश फोगाट ने कहा कि अगर हमें मारना ही चाहते हैं तो मार दो। उन्होंने कहा, क्या हमने यह दिन देखने के लिए अपने देश के लिए पदक जीते? हमने अपना खाना भी अभी नहीं खाया है। क्या पुरुषों को महिलाओं के साथ ऐसा दुर्व्यवहार करने का अधिकार है? ये पुलिस वाले बंदूकें पकड़े हुए हैं, वे हमें मार भी सकते हैं।

जाने विनेश ने कहा, कहां हैं महिला पुलिस अधिकारी?

पुरुष अधिकारी हमें ऐसे कैसे यहां पर धकेल सकते हैं। हम कोई अपराधी नहीं हैं। नशे में धुत पुलिस अधिकारी ने भी मेरे भाई को मारा।

जाने इस मामले पर पुलिस अधिकारी का बयान

डीसीपी प्रणव तायल ने बताया कि जंतर-मंतर पर चल रहे पहलवानों के धरने के दौरान आम आदमी पार्टी के नेता सोमनाथ भारती बिना किसी इजाजत के बिस्तर के साथ ही धरना स्थल पर पहुंच गए। पुलिस ने इनका बीच-बचाव किया तो समर्थक आक्रामक हो गए और ट्रक से वो बेड निकालने की कोशिश करने लगे। इसके बाद यहां, मामूली विवाद हुआ और सोमनाथ भारती के साथ दो अन्य लोगों को भी हिरासत में ले लिया गया है। उन्होंने कहा कि हमने पहलवानों से पहले ही कहा है कि वे अपनी शिकायत दर्ज कराएं, हम उस पर भी उचित कार्रवाई करेंगे। जिस पुलिसकर्मी पर पहलवानों ने दुर्व्यवहार करने के अपने आरोप लगाए हैं, उसका भी मेडिकल चेकअप कराया जा रहा है।

Lucknow : फिर शर्मसार हुई खाकी, पुलिसवाले पर ही लगा स्कूली छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप! 

 

Lucknow : फिर शर्मसार हुई खाकी, पुलिसवाले पर ही लगा स्कूली छात्राओं से छेड़छाड़ का आरोप!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here