उत्तर प्रदेश: सहारनपुर के एक मंदिर में लगाया बैनर..अबकी ईद पर बकरा,अगली बार हिन्दुओं को काटेंगे, माहौल ख़राब करने की कोशिश?

0
1611

AIN NEWS 1: वैसे तो पूरे उत्तर प्रदेश में ही बाबा योगी आदित्यनाथ का राज है और उनका सख्त आदेश है की राज्य में कोई भी कानून विरोधी गतिविधि नहीं होनी चाहिए। मगर फिर भी पश्चिमी उत्तर प्रदेश में इस मुस्लिमों के त्यौहार बकरीद पर कई जगह माहोल बिगाड़ने की पूरी कोशिश की गई। सहारनपुर में एक मंदिर पर ही बैनर लगाकर धमकी दे दी गई कि इस बार ईद पर बकरा, अगली बार की ईद पर हिन्दुओं को काटेंगे। शामली में भी कुर्बानी के बाद बकरे का कटा हुआ सिर हिन्दू बहुल इलाके में सड़क पर ही फेंक दिया गया। बरेली में एक मुस्लिम युवक ने युवक ने तमंचे के साथ एक पोस्ट वायरल कर पुलिस को भी चुनौती दे डाली। पुलिस ऐसा करने वाले खुराफातियों पर सख़्त कार्रवाई में जुट गई है।ईद पर शांति व्यवस्था बनाए रखने को यूपी के सभी जिलों में पुलिस द्वारा विशेष सतर्कता बरती जा रही है। जिसके लिए राज्य प्रशासन ने पहले से ही खुले में कुर्बानी पर पूरी तरह से रोक लगा रखी है। किसी भी प्रकार से पशुओं की कुर्बानी के अवशेष भी सार्वजनिक स्थानों पर नहीं फेंके जाने को लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। सभी जिलों में पुलिस पूरी तरह से अलर्ट मोड पर है। इसके बाद भी कुछ खुराफाती अपनी हरकतों से बाज ही नहीं आ रहे।सहारनपुर में बेहट रोड स्थित तेलीपुरा गांव में ईद से एक दिन पहले ही मंदिर पर आपत्तिजनक बैनर लगाकर वहा के माहौल को बिगाड़ने की कोशिश की गई। बैनर पर साफ़ लिख दिया गया कि इस बार बकरा ईद पर बकरा ही काटेंगे और अगली बार हिन्दुओं को। स्थानीय लोगों में इसे लेकर काफ़ी ज्यादा रोष व्याप्त हो गया। इस मामले की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और बैनर को वहा से हटवाकर लोगों को शांत किया। सहारनपुर पुलिस की ओर से बताया गया है कि इस प्रकरण की जांच कोतवाली देहात प्रभारी को सौंपकर इस पूरे प्रकरण में कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।वहीं, बकरीद पर शामली शहर में ही बकरे का कटा हुआ सिर सड़क पर फेंके जाने से भी माहौल गरमा गया। पता होते ही अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कायकर्ता वहा मौके पर पहुंच गए और विरोध प्रदर्शन कर कठौर कार्रवाई की मांग उठाई। कार्यकर्ताओं ने इस मामले मे बताया कि खुले में पशुओं के अवशेष फेंके जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध के बाद भी हिन्दू बहुल दयानंद नगर में बकरे का सिर इस तरह से खुले में फेंक दिया गया। जिसकी सूचना पर पुलिस के साथ एसडीएम मौके पर पहुंच गए और कार्रवाई का भरोसा देकर सभी कार्यकर्ताओं को शांत किया।

बरेली में ही ईद से पहले सोशल मीडिया पर अवैध हथियारों के प्रदर्शन को लेकर हिन्दू संगठन गुस्से में भी नजर आ रहे हैं। बरेली में थाना नवाबगंज क्षेत्र के गांव लाईखेड़ा के रहने वाले एक सलमान मंसूरी का तमंचे के साथ मे फोटो वायरल होने पर पुलिस से इसकी शिकायत की गई है। इसके अलावा थाना फरीदपुर क्षेत्र के खामगांव निवासी मोहम्मद अमन ने भी अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर तमंचे व कारतूसों की पेटी का फोटो सोशल मीडिया पर डालकर माहौल को बिगाड़ने की कोशिश की है। मामले सामने आते ही बरेली पुलिस सलमान मसूरी और मोहम्मद अमन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई में जुट गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here