गिफ्ट सिटी में अब शराब की छूट के बाद से दूर नहीं रहेगा गोवा? अपनी खूबसूरती से मालदीव को भी टक्कर देता है ये बीच?

0
584

AIN NEWS 1 अहमदाबाद: यहां हम आपको बता दें गिफ्ट सिटी (Gift City) में शराब पीने की छूट देने के बाद से ही गुजरात सरकार पर्यटन के मोर्चे पर भी अब एक ऊंची छलांग लगा सकता है। गिफ्ट सिटी (Gift City) में अब शराब के सेवन की शर्तों के साथ मंजूरी के बाद मिले रिस्पांस के बाद ही अब पर्यटन के लिए भी शराबबंदी को खोलने पर काफ़ी चर्चा शुरू हो गई है। गुजरात के पास ही लगभग 1600 किलोमीटर का समुद्र तटीय इलाका भी है, लेकिन यहां द्वारका का शिवराजपुर बीच इतना ज्यादा खूबसूरत है कि यह टूरिस्ट को जहां पूरी तरह से गोवा का मजा देगा तो वहीं सुंदरता में भी मालदीव से टक्कर लेगा। अब गिफ्ट सिटी में शराब पीने की छूट के बाद से ही पिछले 20 दिनों में जबरदस्त निवेश की गतिविधियां भी शुरू हुई है। ऐसे में सरकार के पर्यटन से जुड़े हुए अधिकारियों की उम्मीद भी काफ़ी बढ़ गई है कि शराब पीने की छूट देकर बीच टूरिज्म को और अधिक ऊंचाई तक पहुंचाया जा सकता है।

यहां जान ले तीसरी बार शुरू की गई है यह कवायद

गुजरात सरकार के पर्यटन विभाग ने ही 2017 और 2019 में दो बार समुद्र पर्यटन (Beach Tourism) की कोशिश पहले भी की थी, लेकिन कोई बड़ा निवेश करने वाली कंपनियां तब इन्हे नहीं मिल पाई थीं। इसके चलते ही यह परियोजना परवान नहीं चढ़ पाई थी, लेकिन एक बार फिर से पर्यटन विभाग ने बीच टूरिज्म की ओर अपना ध्यान पूरी तरह से केंद्रित किया है। समुद्र तट पर अब पर्यटन को विकसित करने के लिए कुल 2000 करोड़ संभाावित निजी फंड की व्यवस्था करके कुल पांच बड़ी परियाेनाएं शुरू की जाएंगी। इसमें द्वारका में भी सबमरीन से समुद्र के अंदर की खूबसूरती दिखाने के साथ-साथ ऊपर क्रूज चलाने की भी योजन बनाई गई है।

इसके लिए सरकार से मांगी गई है अनुमति

गुजरात समाचार की एक रिपोर्ट के अनुसार पर्यटन विभाग के ही एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि गुजरात को जो कुल 1960 किलोमीटर का समुद्र तट मिला है, उसका उपयोग अब समुद्र तट पर्यटन के रूप में किया जा सकता है। अगर सरकार इस गिफ्ट सिटी की तरह इस जगह पर भी शराबबंदी की पूरी अनुमति दे तो राज्य के बाहर और विदेशी पर्यटकों को भी आकर्षित किया जा सकता है, इसलिए ही हमने शराबबंदी नीति में कुछ ढील देने के साथ-साथ सरकार से इसकी अनुमति मांगी है। यह छूट मांडवी, शिवराजपुर, बेट द्वारका, माधवपुर और तीथल बीच के लिए ही मांगी गई है। गिफ्ट सिटी के अगर सरकार ने पर्यटन बढ़ाने में अपनी दिलचस्पी दिखाई तो गुजरात में ही गोवा जैसा बीच बहुत जल्द होगा जो अपनी खूबसूरती में मालद्वीव को भी टक्कर देते पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करेगा।

वैसे तो मनोरम है द्वारका का यह शिवराजपुर बीच

यहां हम आपको बता दें द्वारका में पड़ने वाले शिवराजपुर बीच (Shivrajpur Beach Devbhoomi Dwarka) बहुत ही ज्यादा मनोरम और खूबसूरत भी है। नीले पानी वाले इस बीच की खूबसूरती यह है की यह एक बहुत ही शांत बीच है। यहां पर लहरें वगैरह भी काफ़ी कम उठती हैं। ऐसे में पर्यटन के यह काफी मुफीद बीच है। इसके पानी की सुंदरता भी काफी ज्यादा मोहित करती है। यहां पर पानी साफ है तो लोगों को समुद्र के अंदर जैव विविधता भी आसानी से दिखाई पड़ती है। इस बीच पर टूरिस्ट छह से आठ घंटे आराम से बिता सकते हैं। वैसे तो यह बीच अभी भी टूरिस्ट के लिए खुला हुआ है। यहा पर नहाने की भी अनुमति है लेकिन अन्य कई सारे गतिविधियों की कमी के चलते अभी यहां पर काफी फुटफॉल है। इसे ब्लू फ्लैग बीच भी कहा जाता है। यह टर्म उन बीच के लिए भी इस्तेमाल होता है जहां पर बीच और मरीन के साथ साथ सस्टेनबल बोटिंग टूरिज्म की भी संभावना होती है। यह बीच द्वारका से ही क़रीब 12 किलोमीटर की दूरी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here