एक नवंबर की रात हुई थी वारदात, सात दिन बाद भी पुलिस खाली हाथ।

0
310

आपको बता दे कि आईआईटी बीएचयू छेड़खानी मामले में 7 दिन बाद भी वाराणसी पुलिस के हाथ खाली हैं. पुलिस 15 से अधिक लोगों से पूछताछ और दर्जनों सीसीटीवी खंगालने के बाद भी अपराधी दूर है. घटना के 7 दिन बीत जाने के बाद नाराज छात्रों का गुस्सा बुधवार 8 नवंबर को फिर आईआईटी बीएचयू की सड़कों पर दिखा. हजारों स्टूडेंट्स ने हाथों में पोस्टर लेकर डायरेक्टर ऑफिस के बाहर धरना दिया. इस दौरान छात्र-छात्राएं मौन होकर बैठे रहे. इस दौरान क्रिमिनल कहां हैं, का पोस्‍टर खासी चर्चा में रहा. आईआईटी बीएचयू के स्टूडेंट प्रणव ने बताया कि इतने सेंसिटिव मामले में भी पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं. सिर्फ अफसरों की ओर से लगातार जल्द से जल्द न्याय दिलाने का आश्वासन दिया जा रहा है. अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. हमारी मांग है कि जल्द से जल्द इस मामले में सारे आरोपियों की गिरफ्तारी हो.

IIT BHU student gang raped ITians sit on strike again after six days, demand SIT investigationआपको बता दे कि आईआईटी बीएचयू की छात्रा से सात दिन पहले हुई घटना में लचर पुलिसिंग के विरोध में बुधवार को छात्र-छात्राओं ने दोबारा धरना शुरू कर दिया है। सात दिन बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से गुस्साए स्टूडेंट्स ने निदेशक कार्यालय के सामने सड़क पर पढ़ाई कर विरोध दर्ज कराया। स्टूडेंट्स ने कहा कि जब तक आरोपी पकड़े नही जाते तब तक सड़क पर ही पढ़ाई कर विरोध करेगे स्टूडेंट्स पार्लियामेंट के आह्वान पर बुधवार सुबह 10 बजे आईआईटी डायरेक्टर कार्यालय पर धरना शुरू हुआ। दोपहर बाद हजारों की संख्या में छात्र-छात्राओं ने परिसर में ही तीन किलोमीटर तक का भ्रमण कर जस्टिस रैली निकाली। स्टूडेंट्स हैदराबाद गेट और विश्वेश्वरैया चौराहे से होते हुए निदेशक कार्यालय पर पहुंचे और धरना शुरू कर दिया। धरने पर बैठे छात्रों ने पीड़ित छात्रा को न्याय दिलाने और आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की। आईआईटी बीएचयू में एक नवंबर को देर रात दोस्त के साथ टहलने निकली छात्रा के साथ दोपहिया वाहन से आए तीन युवकों ने घिनौनी हरकत की थी।

BHU IIT Student Molestation Case varanasi police not found accused student Student Molestation Case: गिरफ्त से दूर हैं छात्रा से छेड़छाड़ के आरोपी, हाई प्रोफाइल मामले में पुलिस के हाथ खाली

क्या है पूरा मामला

बता दे कि आईआईटी बीएचयू की बीटेक की छात्रा के साथ एक नवंबर की रात डेढ़ बजे कर्मर बीर बाबा मंदिर से कुछ दूर बाइक सवार तीन युवकों ने अभद्रता की थी। पीड़िता छात्रा को निर्वस्त्र कर उसका वीडियो बनाया था। छात्रा ने पुलिस को बयान दर्ज कराते हुए बताया कि आरोपियों ने उसके प्राइवेट पार्ट को भी छुआ था। इसके बाद छात्रा को जबरन निर्वस्त्र कर बनाए गए साथ ही आरोपियो ने पीड़िता को वीडियो को सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफॉर्म पर अपलोड करने की भी धमकी दी थी. छात्रा के बयान पर लकां थाने की पुलिस ने दर्ज मुकदमे मे भारतीय दंड संहिता की धारा (376डी) और 509 को भी शामिल किया है

जांच में लापरवाही बरत रही पुलिस

स्टूडेंट्स पार्लियामेंट ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस जांच में लापरवाही बरत रही है। छात्रों ने पुलिस पर बयान बदलवाने का भी आरोप लगाया है। स्टूडेंट्स पार्लियामेंट ने पुलिस से वर्तमान जांच की स्थिति बताने और जल्द से जल्द आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की है। घटना के आठ दिन बाद भी पुलिस अभी तक अपराधी तक नहीं पहुंच पाई। साथ ही पुलिस छात्रा से बार-बार बयान बदलवाने की बात कर रही है। पुलिस की जांच पर हमें संदेह है. स्टूडेंट्स का कहना है कि पुलिस भी आरोपी से मिली है. आईआईटी बीएचयू के स्टूडेंट प्रणव ने बताया कि इतने सेंसिटिव मामले में भी पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं. सिर्फ अफसरों की ओर से लगातार जल्द से जल्द न्याय दिलाने का आश्वासन दिया जा रहा है. अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. हमारी मांग है कि जल्द से जल्द इस मामले में सारे आरोपियों की गिरफ्तारी हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here