(देखे वायरल विडियो)अपनी गाड़ी में ही बैठे रहे सेल टैक्स अफसर, ट्रक चालकों को रोककर टैक्स दीवान करता रहा वसूली?

0
479

AIN NEWS 1: एक सेल टैक्स का दीवान का ट्रक चालकों से अवैध वसूली करते हुए दिख रहा है जिसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफ़ी ज्यादा वायरल हुआ है। इस वायरल वीडियो को बांदा जिले के अतर्रा क्षेत्र के चौक बाजार का ही बताया जा रहा है। हालांकि, AIN NEWS 1 ऐसे किसी भी वायरल वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इस वीडियो के वायरल होने के बाद से ही प्रशासन ने जांच बैठा दी है। इस दौरान चर्चा कि दीवान के वसूली के दौरान उनके बड़े अफसर गाड़ी में ही बैठे थे। जनपद में मौरंग के अवैध परिवहन और ओवरलोडिंग को रोकने के लिए ही डीएम की ओर से पुलिस, प्रशासन, परिवहन और सेल टैक्स के कई अफसरों की संयुक्त टीम गठित है। यहां हम आपको बता दें चारों तहसील पैलानी, नरैनी, अतर्रा और बबेरू में अलग-अलग संयुक्त टीमें लगाई गई हैं। जोकि सूरज ढलते ही पूरी तरह से सक्रिय हो जाती हैं। अतर्रा टीम में शामिल एक सेल टैक्स अफसर की गाड़ी भी शुक्रवार रात करीब साढ़े 10 बजे चौक बाजार रोड पर ही खड़ी थी। जिसमे से सेल टैक्स का एक दीवान उतरा। जोकि आने जाने वाले ट्रकों को रोककर ड्राइवरों को उनसे नीचे उतारता। कागजात चेक करने के बहाने वह उनसे अवैध वसूली करता। दीवान के वसूली करने का यह एक पूरा वीडियो रविवार को सोशल मीडिया पर काफ़ी ज्यादा वायरल हुआ। इस वायरल वीडियो में दिखनेवाला दीवान झांसी निवासी बताया गया।

इस दौरान गाड़ी में अफसर की मौजूदगी की भी चर्चा

हां पर चल रही चर्चाओं के मुताबिक, जिस गाड़ी से यह सेल टैक्स दीवान उतरता। वह गाड़ी सेल टैक्स अफसर के लिए ही अटैच है। इस गाड़ी में अफसर की भी मौजूदगी बताई जा रही है। लेकीन वह गाड़ी से बाहर नहीं उतरे थे। रात साढ़े 10 सवा 11 बजे तक यह दीवान ही रोड पर सक्रिय रह ट्रकों को रोककर उनके कागजात की जांच करता और फिर वसूली में लगा रहा। एडीएम वित्त एवं राजस्व राजेश कुमार ने इस संबंध मे बताया, की वायरल वीडियो संज्ञान में आया है। वीडियो में सेल टैक्स दीवान एक शख्स से कुछ लेते हुए साफ़ साफ नजर आ रहा है। इस वायरल वीडियो की जांच कराई जा रही है। जांच के बाद आगे की उचित कार्रवाई की जाएगी।

जान ले अतर्रा में वसूली का यह तीसरा प्रकरण

यहां हम आपको बता दें अतर्रा में मौरंग लोड ट्रक ड्राइवरों से इस तरह से वसूली का इस साल मे यह तीसरा प्रकरण सामने आया है। इससे पहले भी वसूली के दो ऑडियो वायरल हुए थे। एक ऑडियो की जांच में कार्रवाई भी हुई थी। वसूली करनेवाला शख्स एसडीएम का ही अस्थाई ड्राइवर था, जोकि नगर पंचायत बिसंडा में ही संविदा कर्मचारी था। इसकी जांच के बाद उस कर्मच की सेवाएं को समाप्त कर दी गई थीं। दूसरा ऑडियो हाल में वायरल हुआ था। जिसकी जांच में क्या हुआ। यह अभी स्पष्ट नहीं हो सका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here