समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान एक बार फिर से जेल में पहुंच गए, पत्नी तंज़ीम फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खान के साथ ही जेल गए!

0
260

AIN NEWS 1: आपको बता दें समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान एक बार फिर से जेल में पहुंच गए हैं और इस बार भी वो अपनी पत्नी तंज़ीम फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम खान के साथ ही जेल गए हैं. इनके जेल के अंदर जाने से पहले ही इन तीनों से मिलने पहुंचे अदीब. दरअसल रामपुर की एमपी-एमएलए कोर्ट ने अब आज़म खान, बेटे अब्दुल्ला आज़म और उनकी पत्नी तंजीम फातिमा को भी फर्जी जन्म प्रमाण पत्र मामले में सात-सात साल की जेल की सजा सुना दी है। कोर्ट ने इन तीनों नेताओं को जेल भेजे जाने के भी आदेश जारी कर दिए हैं। पूरे सात साल की सजा होने से जहां एक तरफ तो आज़म खान के पूरे परिवार की ही राजनीति समाप्त होती हुई दिख रही है, वहीं इससे समाजवादी पार्टी को भी एक बहुत भारी झटका लगा है। लोकसभा चुनाव से पहले ही पार्टी में अखिलेश यादव के बाद दूसरे सबसे ताकतवर नेता के जेल जाने से पूरी पार्टी की तैयारियों को काफ़ी भारी नुकसान हो सकता है। भाजपा ने तो इस सब को आज़म खान के गलत कार्यों का परिणाम ही बताया है। साथ ही भाजपा ने अब अखिलेश यादव को भी दागी नेताओं से कुछ दूर ही रहने की सलाह दी है। वैसे तो यूपी की सियासत में इस समय मुसलमान मतदाताओं का रुख बहुत ही महत्वपूर्ण हो गया है। पिछले विधानसभा चुनाव में भी यह पूरी तरह समाजवादी पार्टी के पीछे एकजुट ही हो गया था, जिस के कारण अखिलेश यादव मजबूती के साथ ही भाजपा को टक्कर देते हुए दिखाई पड़े थे। इसका बहुत बड़ा श्रेय आज़म खान जैसे नेताओं को ही दिया जाता रहा है। लेकिन ऐसे समय में ही जबकि कांग्रेस मुस्लिम मतदाताओं को अपनी तरफ़ रिझाकर यूपी में अपनी वापसी की पूरी संभावनाएं तलाश रही है, वहीं बसपा भी उन्हें अपने साथ लाने की पूरी पूरी कोशिश कर रही है। और ऐसे समय में आज़म खान की भूमिका बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण हो सकती थी। लेकिन यदि आज़म खान की इस सजा पर रोक नहीं लगती है और उन्हें जेल तो जाना पड़ता है, तो इससे समाजवादी पार्टी को बहुत भारी नुकसान हो सकता है।

उन्होने बताया आज़म खान का साथ देगी सपा

समाजवादी पार्टी ने इस पूरे मामले पर खुलकर कोई भी टिप्पणी नहीं की है। अखिलेश यादव ने भी अभी कुछ ज्यादा कहने से बचने की ही कोशिश की हैं। लेकिन पार्टी के सूत्रों ने मिडिया को बताया है कि पार्टी अपने नेता के साथ मे ही खड़ी रहेगी और इस लड़ाई को हर मोर्चे पर मजबूती के साथ लड़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here