महिला को दी भयानक मौत ! हाथ-पैर से बांध ताला लगाया, सिर से घुटनों तक कट्टा पहनाया, 30 मिनट तक तड़पती रही महिला।

0
398

बता दे कि हैवानियो ने एक महिला को तड़पा-तड़पा कर उसकी हत्या कर दी. 30 मिनट तक वह तड़पती रही और हत्यारे उसे देखकर हंसते रहे. महिला ने बचने के लिए बहुत हाथ-पैर मारे, लेकिन उसे रहम नहीं आया. महिला बचने की भीख मांगते-मांगते हमेशा के लिए शांत हो गई। दरिदों ने महिला को इतनी भयानक मौत दी कि पोस्टमार्टम करते वक्त डॉक्टरों की भी रुह कांप गई वहीं आरोपी के मुंह से यह सुनकर कि उसने कैसे महिला को खौफनाक रूह कंपा देने वाली मौत दी, पुलिस वालों के रौंगटे खड़े हो गए। कैसे कोई इंसान इतना बेरहम, निर्दयी हो सकता है? बता दे कि ये खौफनाक  मामला दिल्ली में स्विस महिला लीना बर्जर की हत्या की है, जिसकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट का सच सूत्रों के मुताबिक सामने आया है। पुलिस रिपोर्ट जल्दी ही रिलीज करेगी और आरोपी को फांसी की सजा की मांग करेगी।

मृतका महिला की आंखे तक बाहर निकाल ली थीं दंरिदों ने

बता दे कि इस मामले में पश्चिमी रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त विक्रमजीत सिंह ने बताया कि लीना बर्जर की मौत गला दबाने से नहीं, बल्कि दम घुटने से हुई थी। लीना के साथ रेप भी नहीं हुआ, लेकिन उसे ऐसे मारा गया कि उसकी आंखें तक निकल गई थीं। गुरप्रीत सिंह ने भी पुलिस पूछताछ में लीना बर्जर के मर्डर की खौफनाक कहानी सुनाई। उसने अपने कबूलनामे में बताया कि उसने लीना की हत्या पैसों के लिए की थी। उसके पास काफी पैसे थे, जो उसे चाहिए थे। इसके लिए उसने लीना को उसी की सेंट्रो कार में जिंदा दफन कर दिया। उसने लीना के हाथ-पैर लोहे की चेन से बांधकर ताला लगा दिया। मुंह पर टेप लगाई। फिर सिर से लेकर घुटनों तक प्लास्टिक का कट्टा पहनाया। इसके बाद उसे सेंट्रो कार में बंद कर दिया और बाहर खड़ा हो गया। उसने कार के फ्रंट शीशे पर सनशेड लगा दिए थे, ताकि कोई देख न पाए। साथ ही पुलिस ने बताया कि लीना ने जान बचाने के लिए खूब हाथ-पैर मारे साथ ही कार का सीट का कवर भी हाथों से नोचकर फाड़ दिया था, लेकिन गुरप्रीत को रहम नहीं आया। क्योंकि उसने बताया कि वह उससे न तो प्यार करता था और न ही वह उससे शादी करना चाहता था। बस वो उसके पैसो से प्यार करता था और उसने पैसे हथियाने के लिए लीना की हत्या की थी। वहीं पुलिस के मुताबिक, आरोपी गुरप्रीत सनकी है। वह बार-बार बयान बदलकर पुलिस वालों को गुमराह कर रहा है। उसकी निशानदेही पर वारदात में इस्तेमाल सामान कैमरा, मोबाइल, लैपटॉप, प्लास्टिक का कट्टा, टेप, सनशेड, लोहे की चेन, ताला बरामद कर लिया है। साथ ही सीट का कवर जो फाड़ा गया था, उससे सैंपल भी ले लिए हैं। वहीं गुरप्रीत ने हत्या करने के लिए जानबूझ कर तिलक नगर जैसी सुनसान जगह चुकी, जिसके बारे में वह जानता था।

20 अक्टूबर की सुबह मिली थी महिला की लाश

आपको बता दें कि 20 अक्टूबर की सुबह दिल्ली के पश्चिमी जनकपुरी इलाके में सड़क पर काले पॉलिथीन में एक विदेशी महिला की लाश मिली थी। जांच पड़ताल में मृतका की पहचान स्विटजरलैंड की रहने वाली लीना बर्जर के रूप में हुई। आरोपी गुरप्रीत सिंह से उसकी दोस्ती थी, लेकिन वहीं गुरप्रीत सिंह उसका हत्यारोपी निकला। काफी तलाश के बाद गुरप्रीत पुलिस के हाथ लगा। पश्चिमी रेंज के संयुक्त पुलिस आयुक्त विक्रमजीत सिंह ने पूछताछ की कमान संभाली। पश्चिमी जिला पुलिस उपायुक्त विचित वीर, ऑपरेशन सेल ACP अरविंद कुमार और तिलक नगर थानाध्यक्ष की टीम ने जांच की। वारदात में यूज सेंट्रो कार और 2.10 करोड़ बरामद किए। गुरप्रीत ने कबूला कि उसने ही लीना को मारा और जनकपुरी इलाके में लाश को ठिकाने लगाया। फिलहाल आरोप गुरप्रीत सिंह पुलिस के हवाले है और जल्द ही आरोपी को फांसी की सजा सुनाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here