नेपाल में भूकंप ने मचाई तबाही, अब तक 128 लोगों की हुई मौत, कई लोग हुए घायल।

0
462

बता दे कि नेपाल में शुक्रवार यानी की 3 नवंबर रात तेज भूकंप आया जिसमें कम से कम 128 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि हजारों लोग घायल हैं. सैकड़ों घर क्षतिग्रस्त हुए हैं. नेपाल में मरने वालों की संख्या बढ़ने की की अनुमान लगाया जा रहा है भूकंप के झटके पूरे उत्तर भारत से लेकर राजधानी दिल्ली-एनसीआर तक महसूस किए गए. सूत्रों मिली जानकारी में बताया है कि शुक्रवार रात भूकंप के बाद से लगातार राहत और बचाव कार्य शुरू किया गया. इमारतों के मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है जिसे हटाने का काम चल रहा है. कई घायलों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया है जिनकी हालत गंभीर है. भूकंप की तीव्रता को रिक्टर स्केल पर 6.4 आंकी गई है. इस तेज भूकंप के झटकों के बीच कई इमारतों को भी नुकसान पहुंचा है जबकि कई इलाकों में तो कई इमारतों के गिरने की भी सूचना है.

quake_shakes_nepal90.jpg

6.4 तीव्रता वाले भूकंप ने नेपाल में मचाई तबाही

बता दे कि जाजरकोट से काठमांडू करीब 500 किलोमीटर पश्चिम में है। भूकंप आने के बाद काठमांडू में लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। नेपाल के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने कहा कि भूकंप की तीव्रता 6.4 रही थी। भूकंप का केंद्र नेपाल में अयोध्या से लगभग 227 किलोमीटर उत्तर में 10 किलोमीटर की गहराई में था। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि नेपाल के इस इलाके में दर्जनों घर ढह गए। इस भूकंप से अब तक 128 की मौत हो चुकी है जबकि कई लोग मलबे में दब गए। संभावना जताई जा रही है कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। साथ ही बता दे कि नेपाल में एक महीने  में तीसरी बार भूकंप के तेज झटके लगे है नेपाल के जजरकोट जिले के लामिडांडा इलाके में इस भूकंप का केंद्र था. यहां पर 92 लोगों की मौत हुई है.तो वंही रुकुम जिले में 37 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. अपको बता दे नेपाल में आए इस भूकंप के झटके दिल्ली एनसीआर सहित उत्तर भारत के कई हिस्सों में भी महसूस किए गए. बता दे रात करीब 11 बजकर 32 मिनट पर आए इस भूकंप के झटके जैसे ही महसूस हुए लोगों अपने-अपने घरों से बहार निकलने लगे और फिर चारों तरफ दहशत का माहौल बन गया

Image

बढ़ सकते है मरने वालो के आंकड़े

आपको बता दे 6.4 तीव्रता वाले भूकंप ने नेपाल मे तभाई मचा दी है नेपाल में इस तेज भूकंप के कारण अब तक 129 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि भारी संख्या में लोग घायल हैं. हालांकि, मौतों का आंकड़ा और बढ़ सकता है. भूकंप के कारण कई मकान जमींदोज हो गए हैं. जजरकोट की आबादी 1 लाख 90 हजार है. यहां काफी नुकसान की खबर है. राहत बचाव कार्य शुरू हो गया है. नेपाल के पीएम पुष्प दहल प्रचंड ने घटना पर दुख जताया है.

नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ने जताया दुख

बता दे आपको भूकंप से हुई क्षति को लेकर नेपाल के प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल ने लेकर दुख जताया है। नेपाल के पीएमओ ने एक्‍स पर लिखा कि प्रधानमंत्री पुष्प कमल दहल प्रचंड ने शुक्रवार रात 11:47 बजे जजरकोट के रामीडांडा में आए भूकंप से हुई क्षति पर गहरा दुख व्यक्त किया है। घायलों के तत्काल राहत और बचाव के लिए 3 सुरक्षा एजेंसियों को तैनात किया गया है।

देश के प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी ने जताया शोक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल में आए भूकंप को लेकर एक्स पोस्ट पर अपना दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा, “नेपाल में भूकंप के कारण हुई जनहानि और क्षति से अत्यंत दुखी हूं। भारत नेपाल के लोगों के साथ एकजुटता से खड़ा है और हर संभव सहायता देने के लिए तैयार है। हमारी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं और हम घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here