क्या मनीष सिसोदिया की जेल में मनेगी दिवाली या फिर आएंगे बाहर, आज होगा फैसला।

0
149

दिल्ली शराब घोटाला मामले मे काफी समय से जेल में बंद दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया क्या दिवाली अपने घर पर मनाएंगे या फिर जेल में ही उनकी दिवाली मनेगी आज हो सकता है इस पर फैसला

आपको बता दे कि शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तार किए गए आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह को क्या जमानत मिल पाएगी? क्या वह दिवाली घर पर मना पाएंगे? या फिर उनकी दिवाली जेल में ही मनेगी? इन सवालों का जवाब शुक्रवार को राउज ऐवेन्यू कोर्ट से मिलने वाला है। संजय सिंह को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। बता दे इससे पहले संजय सिंह को 27 अक्टूबर को कोर्ट में पेश किया गया था तब अदालत ने उनकी हिरासत बढ़ाते हुए 10 नवंबर तक के लिए जेल में भेज दिया था. जानकारी के अनुसार आपको बता दे कि आम आदमी पार्टी के सासंद सजंय सिंह को ईडी ने 4 अक्टुबर को उनके आवास से गिरफ्तार किया थ. 10 घटें तक उनसे पूछताछ किया गया था पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। 8 दिन तक ईडी रिमांड पर रहने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया था

दरअसल बता दे आपको दिल्ली आबकारी नीति केस में आरोपी आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने अपनी बीमार पत्नी से मुलाकात की मांग को लेकर कोर्ट में एक अर्जी दाखिल की है. राऊज एवेन्यू कोर्ट आज दिल्ली के पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की अर्जी पर सुनवाई करेगा, जिसके बाद यह तय हो जाएगा कि मनीष सिसोदिया की दिवाली जेल में ही मनेगी या फिर बाहर. बता दे कि कोर्ट में दायर याचिका में मनीष सिसोदिया ने अपनी बीमार पत्नी से पुलिस की सुरक्षा में मुलाकात के लिए 5 दिन की मांग की है. कुछ देर में राउज एवेन्यू कोर्ट इस पर सुनवाई करेगा और अपना फैसला सुनाएगा. अदालत दिल्ली के कथित शराब घोटाले में सीबीआई और ईडी के मामलों की सुनवाई कर रही है. पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सीबीआई के साथ-साथ मनी लॉन्ड्रिंग मामले में भी आरोपी हैं. दिल्ली शराब घोटाला के दोनों मामलों यानी ईडी और सीबीआई केस में मनीष सिसोदिया और अन्य आरोपी व्यक्तियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई है. आपको बता दे मनीष सिसोदिया फरवरी से ही जेल में बंद है

सीबीआई ने 26 फरवरी को सिसोदिया को ‘घोटाले’ में उनकी कथित भूमिका के लिए गिरफ्तार किया था. तब से वह हिरासत में हैं. ईडी ने तिहाड़ जेल में उनसे पूछताछ के बाद नौ मार्च को सीबीआई की प्राथमिकी से जुड़े धन शोधन के मामले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया. मनीष सिसोदिया ने 28 फरवरी को दिल्ली कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था. दिल्ली सरकार ने 17 नवंबर, 2021 को नीति लागू की थी, लेकिन भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच सितंबर 2022 के अंत में इसे रद्द कर दिया था. हालांकि दिल्ली सरकार और आम आदमी पार्टी ने आरोपी को सिरे से खारिज करते हुए केंद्र सरकार पर झुठे केस में फंसाने का आरोप लगाया है. अभी फिलहाल सवाल ये उठता है कि क्या मनीष सिसोदिया की दिवाली जेल में बनती है या फिर घर पर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here