क्या दिल्ली के मुख्यमंत्री भी जाएंगे जेल? दिल्ली की कुर्सी संभालने को लेकर आम आदमी पार्टी के नेता कर रहे दावा।

0
188

देश की राजधानी दिल्ली से बहुत बड़ी खबर सामने आ रही है। खबर यह है कि शराब घोटाले के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जेल जाना पड़ेगा। अरविंद केजरीवाल आम आदमी पार्टी के मुखिया भी हैं। अरविंद केजरीवाल को ED ने पूछताछ के लिए तलब कर लिया है। ED के इस नोटिस पर ज्यादातर विश्लेषकों का दावा है कि दिवाली 2023 से पहले ही अरविंद केजरीवाल को जेल जाना पड़ सकता है। साथ ही दिल्ली सरकार के वरिष्ठ मंत्री सौरभ भारद्वाज ने मंगलवार को कहा कि यदि दिल्ली के सीएम केजरीवाल को गिरफ्तार किया जाता है तो उनकी सरकार जेल से ही चलेगी. वे जेल से ही चलाएंगे और जेल से ही दिल्ली वालों को मुफ्त बिजली, पानी और स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करते रहेंगे आपको बता दे कि ईडी द्वारा अरविंद केजरीवाल को शराब घोटाले में पूछताछ के लिए बुलाये जाने के साथ ही यह भी आशंका जताई जा रही है कि उन्हें भी मनीष सिसोदिया और सजंय सिंह की तरह गिरफ्तार किया जा सकता है

क्या है पूरा मामला

आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इन दिनों शराब घोटाले से घिरी हुई है। दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया तथा अरविंद केजरीवाल के सबसे खास नेता राज्यसभा सांसद संजय सिंह इन दिनों जेल में हैं। अब ED ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी सम्मन भेजा है। अरविंद केजरीवाल को भेजे गए सम्मन में ED ने उन्हें 2 नवंबर को अपने दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया है। इसी प्रकार पूछताछ के लिए बुलाए गए मनीष सिसौदिया व संजय सिंह को भी ED ने अपने दफ्तर से ही गिरफ्तार कर लिया था। साथ ही बता दे कि दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने दावा किया है कि अरविंद केजरीवाल के बाद I.N.D.I.A. गठबंधन के अन्य नेता भी गिरफ्तार किए जाएंगे। आतिशी के मुताबिक, केजरीवाल के बाद झारखंड सीएम हेमंत सोरेन, बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, केरल तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री गिरफ्तार हो सकती हैं। अरविंद केजरीवाल के गिरफ्तारी की बात पर सवाल उठा कि अगर वह गिरफ्तार हो गए तो दिल्ली सरकार कौन चलाएगा?

मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा कि केंद्र सरकार का एक ही मकसद है…

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी के नोटिस पर दिल्ली सरकार में मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कड़ी आपत्ति जताई है। सौरभ ने कहा कि खबरों के मुताबिक केंद्र सरकार की ईडी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को समन भेजा है, इससे साफ हो जाता है कि केंद्र सरकार का एक ही मकसद है कि किसी तरह आम आदमी पार्टी को खत्म किया जाए और इसके लिए वे कोई कसर नहीं छोड़ रहे कि किसी तरह फर्जी केस बनाकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जेल में बंद किया जाए और आम आदमी पार्टी को खत्म किया जाए। बता दें कि ईडी ने दो नवंबर को सीएम को पूछताछ के लिए बुलाया है. दिल्ली की नई शराब नीति मामले में पूछताछ के लिए बुलाया गया है. इससे पहले मुख्यमंत्री को सीबीआई इसी साल अप्रैल में पूछताछ के लिए बुला चुकी है. बता दे आपको इससे पहले, सुप्रीम कोर्ट ने आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की दो अलग-अलग जमानत याचिकाएं खारिज कर दी. सिसोदिया को झटका बार बार देते हुए, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली आबकारी नीति मामले से संबंधित भ्रष्टाचार और धन-शोधन मामलों में उनकी नियमित जमानत याचिका खारिज कर दी और कहा कि मामले में अस्थायी तौर पर 338 करोड़ रुपये के हस्तांतरण की पुष्टि हुई है और अब दिल्ली के सीएम केजरीवाल को भी ईडी ने पूछताछ के लिए बुलाया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here